पाकिस्तान शुक्रवार को तीन बम धमाकों से दहल गया. पहला आत्मघाती बम धमाका क्वेटा के गुलिस्तान रोड इलाके और दो धमाके पाकिस्तान के संघीय प्रशासित आदिवासी क्षेत्र कुर्रम एजेंसी के पारचिनारक इलाके में हुए, जिसमें कम से कम 38 लोगों की मौत हो गई, जबकि 120 से ज्यादा लोग घायल हो गए. यह शिया बहुल इलाका माना जाता है. 
पाकिस्तानी अखबार डॉन ने स्थानीय अधिकारियों के हवाले से बताया कि ये धमाके बेहद घनी आबादी वालेक क्षेत्र में किए गए. मृतकों और घायलों की संख्या में इजाफा हो सकता है. फिलहाल हमले की जिम्मेदारी किसी आतंकी संगठन ने नहीं ली है. इस घटना के बाद इलाके में राहत एवं बचाव शुरू कर दिया गया है. घायलों को पारचिनार के डिस्ट्रिक्ट जनरल हॉस्पिटल में भर्ती कराया जा रहा है. 
हॉस्पिटल के चिकित्सा अधीक्षक सबीर हुसैन ने बताया कि पारचिनार के तूरी बाजार और ताल अड्डा में हुए धमाकों में कम से कम 25 लोगों की जान गई है, जबकि 100 से ज्यादा लोग जख्मी हुए हैं. अस्पतालों में आपातकाल लागू कर दिया गया है, ताकि लोगों का तेजी से इलाज किया जा सके. पहला धमाका ताल अड्डा के नजदीक किए गए, जहां पर बाजार और बस टर्मनिल भी हैं. इसके अलावा दूसरा धामाका उस वक्त हुआ, जब घायलों को अस्पताल लाया जा रहा था.

Post A Comment:

0 comments: