पटना, सनाउल हक़ चंचल-

पटना। एक ओर जहां लालू-राबड़ी आवास पर सीबीआइ की छापेमारी चल रही है वहीं आज लालू चारा घोटाले के एक मामले में आज झारखंड की राजधानी रांची स्थित सीबीआई कोर्ट में पेश होने पहुंचे। कोर्ट के बाहर ही मीडियाकर्मियों ने उन्हें घेर लिया तो उन्होंने कहा कि अभी नहीं, कोर्ट से बाहर आने के बाद कोई जवाब देंगे।

आज देवघर और डोरंडा कोषागार से संयुक्त बिहार के समय हुई अवैध निकासी मामले में रांची के सीबीआइ अदालत में पेश होने पहुंचे हैं। सीबीआइ ने लालू के खिलाफ उनके रेलमंत्री रहते हुए रेलवे के दो होटलों को निजी कंपनियों को देने के फर्जीवाड़े के आरोप में लालू यादव, राबड़ी देवी, दोनों पुत्र तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव सहित कई लोगों पर एफआइआर दर्ज की है।

पहले से ही चारा घोटाले में फंसे हैं लालू .....

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को बड़ा झटका देते हुए सीबीआई की याचिका मंजूर कर ली थी। अब उनके खिलाफ 900 करोड़ के चारा घोटाले का षड्यंत्र रचने का भी मामला चल रहा है। इसी मामले में उनके खिलाफ तीन और मामले में ट्रायल पहले से चल रहा है। इससे पहले झारखंड हाईकोर्ट ने लालू को इस घोटाले में षड्यंत्र रचने का आरोपी नहीं माना था।

सुप्रीमकोर्ट के आदेश का यह असर है कि स्पीडी ट्राइल के जरिए चारा घोटाला के केसों की सुनवाई में अचानक तेजी आ गई है। एक सप्ताह के अंदर दो-दो बार सीबीआई कोर्ट में लालू प्रसाद की सशरीर उपस्थिति ने यह साफ जता दिया है कि आने वाले समय में लालू की मुश्किलें कम होने के बजाय और बढ़ सकती हैं।

Post A Comment:

0 comments: