पटना, सनाउल हक़ चंचल-

पटना। बेगूसराय कोर्ट में एक अनोखा फैसला सुनाया गया है। कोर्ट ने एक प्रेमी जोड़े को शादी करने की इजाजत दी लेकिन शर्त ये थी कि प्रेमी को तभी जमानत मिलेगी जब वो पुलिस और वकील के सामने शादी करेगा।

इस फैसले के तुरंत बाद ही कोर्ट कैंपस में मौजूद पुलिस और वकील के समक्ष ही प्रेमी ने प्रेमिका के साथ शादी की, उसकी मांग भरी और साथ निभाने का वादा किया, जिसके बाद उसे अग्रिम जमानत दी गई।

इस फैसले के बाद कोर्ट में मौजूद लोगों के लिए यह शादी कौतूहल का विषय बना रहा और इस अनोखी शादी को देखने के लिए कोर्ट परिसर में लोगों की भीड़ लग गई। प्रेम प्रसंग में फरार चल रहे लड़के की आखिरकार कोर्ट कैंपस स्थित हनुमान मंदिर में शादी रचाई गई।

बताते चलें कि बखरी थानाक्षेत्र के बखरी गांव की रहने वाली लड़की निशा और लक्ष्मण तांती करीब दो वर्षो से एक दूसरे से बहुत प्यार करते थे लेकिन दोनों के परिवार को उनके प्यार पर एतराज था। परिजनों की नाराजगी को देखते हुए दोनों घर से भाग निकले।

जिसके बाद लड़की के परिवार वालों ने बखरी थाना में लड़के पर लड़की को अपहरण करने का आरोप लगा दिया।जिसके बाद बखरी पुलिस दोनों को ढूंढ रही थी। गुरुवार को दोनों ने कोर्ट में आत्म समर्पण कर अग्रिम जमानत के लिए अर्जी लगाई, जिसे कोर्ट ने मंदिर में शादी करने की शर्त पर मंजूर कर लिया और शादी के बाद लड़का और लड़की को परिवार वालों को सौप दिया गया।

बहरहाल, अब दोनों प्रेमी-प्रेमिका अपनी शादी के  बाद काफी खुश हैं। दोनों के प्यार पर अब तो कोर्ट की मुहर लग गई है।

Post A Comment:

0 comments: