विष्णु दयाल  बियुरो चीफ  हरियाणा बल्लभगढ़
आर्य नगर में रहने वाले गौरव का 5 नवंबर से अभी तक कुछ अता पता नहीं लग
सका है। परिजनों का आरोप है कि 5 नवंबर की दोपहर को गौरव के  घर से
बुलाकर साथ ले जाने वाले युवकों ने, उसकी हत्या कर शव को नहर में फैंक
दिया है। करीब एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी पुलिस की ओर से शव को नहर
में खोजने की कोई कार्रवाई न किए जाने व आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज न
करने से नाराज परिजनों व कालोनी के लोगों ने शनिवार दोपहर करीब 2 बजे
मोहना रोड पर जाम लगा दिया। इस दौरान लोगों ने पुलिस प्रशासन व भाजपा
सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। पूर्व मुख्य संसदीय सचिव शारदा राठौर
मौके पर पहुंची और पीडित परिवार से बातचीत की। इसके बाद उन्होंने एसीपी
राजेश चेची व अन्य पुलिस अधिकारियों से इस संबंध में बातचीत की।
जाम लगाने वाले पीडित परिवार का समर्थन करते हुए शारदा राठौर ने कहा कि
शहर में कानून व्यवस्था समाप्त हो चुकी है। असमाजिक तत्वों व गुंडागर्दी
करने वालों का शहर में चारों और आतंक व्याप्त है। पुलिस व भाजपा सरकार
कानून व्यवस्था को कायम रखने में नाकामयाब साबित हो रहे हैं। यहीं कारण
हैं कि आए दिन शहर में मर्डर, चोरी , लूटपाट व डकैती की वारदातें बढती ही
जा रही है। उन्होंने कहा कि पीडित परिवारों की कोई सुनने वाला नहीं है।
लोगों का अब भाजपा सरकार व प्रशासन से विश्वास उठ गया है।
क्या था मामला:  आर्य नगर में गांव नौनिहाल जिला मथुरा उत्तर प्रदेश के
रहने वाले राधेश्याम अपने परिवार के साथ किराये के मकान में रहते हैं।
पहले वे प्रॉपर्टी डीलर का काम करते थे। उनका बेटा गौरव किसी कंपनी में
नौकरी करता था। फि लहाल उसकी नौकरी छूट हुई थी और वह बेरोजगार था। गौरव
के छोटे भाई ने बताया कि 5 नवंबर रविवार को नवीन नाम का युवक उसके भाई की
नौकरी लगावाने के लिए उनके घर से बुलाकर स्कूटी पर अपने साथ ले गया था।
उसका भाई गौरव, नवीन को पहले से ही जानता था। 5 नवंबर के बाद से अभी तक
गौरव वापस घर नहीं लौटा है। पुलिस में शिकायत दिए जाने पर पुलिस ने इस
मामले में विक्रम, नवीन व प्रवीण को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।
पडित परिवार का आरोप है कि गौरव की हत्या कर शव को खुर्द बुर्द करने की
नीयत से नहर में फैंक दिया है। पुलिस से शव को नहर में ढूंढने की कई बार
अर्जी लगाई किंतु पुलिस ने अभी तक शव को खोजने व आरोपियों के खिलाफ केस
दर्ज करने की कोई कार्रवाई नहीं की है। इससे परेशान होकर शनिवार को लोगों
ने पहले मोहना रोड पर यादव डेरी के पास व बाद में गुप्ता होटल चौक पर
करीब डेढ घंटे तक जाम लगाए रखा। मौके पर अग्रसेन चौकी इंचार्ज पहुंचे और
उन्होंने आश्वासन दिया कि दो दिन के भीतर शव को नहर से खोज लिया जाएगा
और आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा। आश्वासन पर लोगों ने जाम
खोल दिया।

Post A Comment:

0 comments: