विष्णु दयाल ,ब्यूरो चीफ -


फरीदाबाद 31/03/2018:  आज ए टू जेड ब्रेंड कम्युनिकेशन ग्रुप द्वारा श्रीमती फरीदाबाद एन.सी.आर. -2018 के आयोजन के संदर्भ में एक प्रेसवार्ता का आयोजन मोर देन परांठा रेस्टोरेंट फरीदाबाद में किया गया |
प्रतियोगिता के बारे में बताते हुए संस्था के निदेशक श्री अखिलेश खरे ने बताया की यह आयोजन मुख्य रूप से तेज़ाब हमले से पीड़ित श्रीमती सोनिया चौधरी के सशक्तिकरण के उद्देश्य से किया जा रहा है | साथ ही साथ इस प्रतियोगिता के द्वारा भाग ले रही महिलाओं को स्वयं के सशक्तिकरण की ओर प्रेरित भी किया जा रहा है |
इस प्रतियोगिता का ऑडिशन 7 अप्रैल को व मुख्य इवेंट 6 मई को फरीदाबाद में किया जाएगा |
इस प्रेसवार्ता के दौरान हमारे संवाददाता ने तेज़ाब हमले से पीड़ित श्रीमती सोनिया चौधरी से बात की | सोनिया जी ने इस मुद्दे पर बात करते हुए बताया की समाज के अंदर हर वर्ग के लोगों को  महिलाओं के प्रति अपनी सोच बदलनी होगी | किसी महिला के उपर इस प्रकार से तेज़ाब के द्वारा हमला करना किसी पुरुष  की बीमार मानसिकता को दर्शाता है | जिसकी सजा वह अबला नारी बिना किसी कसूर के पूरी उम्र झेलती रहती है | धीरे-धीरे समय के साथ समाज उस महिला को ही कसूरवार मानने लगता है | जिसके कारण इस तरह के अपराध को बल मिलता है | इस तरह से तेज़ाब हमले की पीड़ा केवल उस महिला को ही नहीं अपितु उसके साथ-साथ पुरे परिवार को झेलनी पड़ती है |
     सोनिया जी ने बताया की उनके पिता नहीं है ,घर में उनके माँ व छोटे भाई एव बहन है | यह पीड़ा उनके परिवार पर किस  प्रकार आपदा बन कर टूटी, शायद यह दर्द शब्दों  में बयाँ नहीं हो सकता |
ए टू जेड ब्रेंड कम्युनिकेशन ग्रुप के चेयरमैन अखिलेश खरे ने बताया की इस तरह के अपराध को रोकने के के लिए समाज को आगे आना चाहिए | परिवार व बच्चो के अंदर अच्छे संस्कार का होना बहुत जरुरी है | सरकार को भी खुली तेज़ाब की बिक्री पर रोक लगानी चाहिए |
इस प्रेसवार्ता में मुख्य रूप से अखिलेश खरे, सोनिया चौधरी, प्रमोद मिनोचा, रूपा सोम सुन्दरम, मीना डाबर, शैली सेठी, गुरदीप बक्सी, संदीप श्रीवास्तव, प्रियंका शर्मा, मीत मालिक, अंजू टिक्कू, निधि बक्सी , अन्नू चौधरी, रिवा सिंह, हीना शुक्ला,एवं महिला प्रतियोगीगण उपस्थित रहे |

Post A Comment:

0 comments: