विष्णु दयाल ,ब्यूरो chief

फरीदाबाद 30/03/2018: केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 12वीं इकोनॉमिक्स और 10वीं मैथ्स का पेपर लीक होने के बाद परीक्षा रद्द होने से छात्रों के साथ-साथ उनके अभिभावकों की भी टेंशन बढ़ गई है | सीबीएसई ने अब ये दोनों पेपर दोबारा कराने का फैसला लिया है | हालांकि बोर्ड ने अभी इस बात की जानकारी नहीं दी है कि ये पेपर किस दिन कराए जाएंगे, लेकिन जानकारी के मुताबिक सात से आठ दिनों में बोर्ड दोबारा एग्जाम कराएगा और इससे जुड़ी सभी जानकारी वेबसाइट पर जारी करेगा | लेकिन राजधानी लखनऊ समेत सूबे के लाखों छात्र फैसले से नाखुश नजर आ रहे हैं | छात्रों का कहना है कि उनकी क्या गलती थी |

हालांकि, पेपर रद्द होने के बाद जहां परीक्षा खत्म होने का छात्रों में उत्साह था वह कुछ ही घंटों में रफूचक्कर हो गया | अब बच्चों के साथ-साथ उनके पैरेंट्स के सामने बड़ी मुसीबत आ खड़ी हुई है | क्योंकि एग्जाम के बाद ज्यादातर बच्चों ने लंबी छुट्टी पर जाने की प्लानिंग कर ली थी | वहीं अभिभावकों का कहना है कि इससे बच्चों  को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है | अभिभावकों का कहना है कि पेपर लीक होने से उनके बच्चे परेशान हैं, क्योंकि उनकी साल भर की मेहनत खराब हो गई |

राजधानी लखनऊ की शुऐबा खान ने कहा कि बोर्ड का फैसला एकदम गलत है | हमलोग एक महीने से एग्जाम की वजह से काफी दबाव में थे | पेपर ख़त्म होने के बाद रहत की सांस ली थी | लेकिन पेपर कैंसिल होने से फिर से टेंशन बढ़ गई है | खासकर उनके लिए बहुत निराशाजनक है जिन्होंने काफी मेहनत की थी  | अब उम्मीद है कि पेपर आसान आए |
आपको बता दें कि 12वीं क्लास का इकोनॉमिक्स का पेपर मंगलवार को हुआ था जबकि बुधवार को 10वीं का मैथ्स का पेपर हुआ था | लीक होने के बाद पेपर कैंसिल होने से अभिभावकों में काफी गुस्सा है |

Post A Comment:

0 comments: