विष्णु दयाल ,ब्यूरो चीफ (फरीदाबाद)

फरीदाबाद 08/03/2018:  लगातार चर्चा में रहने वाली आम आदमी पार्टी की मुशिबते कम होने का नाम ही नहीं ले रही हैं |दिल्लीत सरकार में मुख्यह सचिव अंशु प्रकाश से मारपीट मामले में दोनों आरोपियों की न्या यिक हिरासत बढ़ा दी गई है. आप के विधायक अमानतुल्लााह खान सहित प्रकाश जरवाल को तीस हजारी कोर्ट ने 14 दिन की न्यानयिक हिरासत में भेज दिया है. इससे पहले भी दोनों आरोपी न्याीयिक हिरासत में थे.

बता दें कि दिल्लीं के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश से बदसलूकी और मारपीट मामले में मुख्यभमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी बड़ा बयान दिया है. आम आदमी पार्टी (AAP) के दो विधायक प्रकाश जरवाल और अमानातुल्ला खान पर मुख्य सचिव से मारपीट के आरोप के साथ ही केजरीवाल पर भी आरोप लगे थे कि उनकी मौजूदगी में मुख्य सचिव से बदसलूकी और हाथापाई हुई, लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया. इन आरोपों से इनकार करते हुए बुधवार को दिल्ली सीएम ने कहा, "अरविंद केजरीवाल ज़िद्दी हो सकता है, मगर हिंसक नहीं."

आम आदमी पार्टी के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से केजरीवाल का एक वीडियो ट्वीट किया गया है. इस वीडियो में दिल्ली सीएम यह कहते हुए दिख रहे हैं, "केजरीवाल ज़िद्दी हो सकता है, लेकिन, हिंसक नहीं हो सकता. हमलोग हिंसा कभी नहीं करेंगे. मारपीट कायर लोग करते हैं और केजरीवाल कायर नहीं है."

मुख्य सचिव के साथ मारपीट के आरोपों को खारिज करते हुए केजरीवाल ने कहा, "हम कभी मारपीट नहीं करेंगे…और अपने लोगों से क्योंर करेंगे? आपस में लड़ लेंगे, झगड़ लेंगे. हम मारपीट क्यों  करेंगे?"
दरअसल, दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश ने आरोप लगाया था कि सीएम आवास में मीटिंग के दौरान उनके साथ आप विधायकों ने बदतमीजी और हाथापाई की. उनके मुताबिक, वह 19 फरवरी की देर रात एक बैठक में शामिल होने के लिए सीएम हाउस गए थे. राशन के एक मामले को लेकर बहस हुई, जिसके बाद सीएम केजरीवाल के सामने आप विधायकों ने उनके साथ मारपीट की. मुख्य सचिव के मेडिकल रिपोर्ट में भी उनके साथ मारपीट की पुष्टि हुई है. मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक, मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के चेहरे और कंधे पर चोट के निशान मिले हैं.

Post A Comment:

0 comments: