विष्णु दयाल ,ब्यूरो चीफ (फरीदाबाद)

फरीदाबाद 8/03/2018: फरीदाबाद शहर के अंदर लोगो ने स्कूल को एक बिजनेस बना कर रख दिया है | शहर के अंदर स्कूलो की संख्या भेढ - बकरियों की तरह से हो गई है | प्रशासन के सुस्त व भर्स्ट कार्यकलापो के कारण बिना मान्यता प्राप्त स्कूल धडल्ले से शहर के अंदर चल रहे है |
आज फरीदाबाद की संजय कालोनी में स्थित  Daisy public school के बाहर दसवी कक्षा के बच्चे अपनी रोल न० स्लिप न मिलने के कारण परिजनों के साथ रोते व बिलखते दिखे | स्कूल के बच्चो का आरोप है शिक्षा बोर्ड की पूरी फीस भरने के बावजूद  स्कूल के प्रिंसिपल ने हमे रोल  न० स्लिप नहीं दी | आज जब स्कूल के सभी बच्चे अपने स्कूल परिजनों के साथ स्कूल पहुंचे तो पता चला की स्कूल के प्रिंसिपल ऐजाज खान स्कूल को बंद कर पिछले एक हफ्ते से गायब है | 12:30 पर बच्चो का पेपर था परन्तु न तो प्रिंसपल मिला और न ही स्कूल का कोई स्टाफ मेम्बर |
हमारे चैनल के पत्रकार ने स्कूल के बच्चो से बात की तो पता चला की की तकरीबन 30 बच्चो
ने इस वर्ष दसवी की परीक्षा देने की लिए इस स्कूल में प्रवेश लिया था परन्तु आज  Daisy public school के प्रिंसिपल की इस हरकत से सभी बच्चो का भविष्य खराब हो गया | मौके पर पहुंची जिला शिक्षा अधिकारी ने कहा की हम मामले की जाँच करवाते है | मौजूदा पुलिस के आला अधिकारी ने बताया की यह स्कूल हरियाणा सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त नहीं है | तथा ऐसे स्कूल के खिलाफ शख्त से शख्त कारवाही का आश्वाशन दिया |
बच्चो में बड़ते आक्रोश को देख कर समाज सेवी प्रदीप राणा जी भी पहुंचे और बच्चों व अविभवाको से शान्ति बनाये रखने को कहा तथा  अपील की कि स्कूल की इमारत को किसी भी प्रकार नुकसान न पहुंचाया जाए | हिंशा से किसी भी समस्या का हल नहीं निकलता |
दुखी व परेशान हो कर सभी बच्चे व अपने अविभवाको के साथ कोर्ट का रुख कर लिया |

Post A Comment:

0 comments: