विष्णु दयाल , ब्यूरो चीफ फरीदाबाद (हरियाणा)

फरीदाबाद 29/06/2018:  आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में जहां मोबाइल फोन में कैमरा होने के फायदे अनेक है वहीं कई बार इसका नुकसान भी उठाना पड़ सकता है | इसी कड़ी में मुद्दई मुकदमा हजा परमवीर सिंह जोकि हिसार का रहने वाला है और फरीदाबाद में डिपार्टमेंटल स्टोर में जॉब करता है | उसने अपनी कुछ प्राइवेट वीडियो अपने मोबाइल फोन से बनाकर मेमोरी कार्ड मैं सेव कर घर पर रख दी | उसे नहीं पता था कि यह मेमोरी कार्ड चोरी हो सकता है और परेशानी का सबब बन सकता है |

 पकड़ा गया मुख्य  आरोपी कारपेंटर का काम करता है तथा उसने कुछ समय पहले ही परमवीर के घर लकड़ी का काम किया था | और घर से परमवीर का मेमोरी कार्ड चुरा लिया | जब आरोपी ने  मेमोरी कार्ड को अपने मोबाइल में डाला तो उसे पता लगा  कि इसमें जो प्राइवेट वीडियो है वह परमवीर की है तो  उसने  इसी बात का फायदा उठाकर अपने रिश्तेदार मोहम्मद शमशेर जिसको सऊदी अरब से इस वारदात को करने के लिए बुलाया |और उसके  साथ मिलकर   इस वीडियो को सोशल मीडिया पर पोस्ट करने की धमकी देकर परमवीर से ₹200000 ऐंठने की  प्लानिंग तैयार कर ली | और मुताबिक प्लान परमवीर के मोबाइल पर आरोपी शमशेर के सऊदी अरब के मोबाइल नं से इस वीडियो को  WhatsApp के जरिए भेज दिया  आरोपियों ने ये सोचा था कि पुलिस सऊदी अरब के मोबाइल न0 को ट्रेस नही कर पायेगी जब परमवीर ने  इस वीडियो को देखा तो उसके होश उड़ गए आरोपी ने  परमवीर को कहा कि यदि तूने पुलिस को इस बारे बतलाया तो मुझे ये भी पता है तेरा लड़का कहा कोन से स्कूल में पढ़ता है अंजाम भुगतने को तैयार रहना जो  परमवीर ने आरोपियों को 2 लाख रुपये देने की हाँ कर ली और  पुलिस को इस बारे सूचना दे दी |

जिस पर मुकदमा 669 दिनांक 27.06.18 धारा 384/387/506 थाना सेंट्रल फरीदाबाद में जाकर
दर्ज  किया | पुलिस ने अपना जाल बिछाकर दोनों आरोपीयो को काबू कर लिया |
 गिरफ्तार आरोपी :

1. रिजवान पुत्र इकबाल निवासी मकान नंबर 758 AC नगर एनआईटी फरीदाबाद 
2. मोहम्मद शमशेर पुत्र प्रवेश निवासी गांव यूसुबपुर थाना सरायकिल जिला कौशांबी 
 पुलिस कार्यवाही :- Dcp क्राइम श्री लोकेंद्र ips के दिशानिर्देश पर कार्य करते हुए सेक्टर 30 क्राइम ब्रांच प्रभारी संदीप मोर ने अपनी एक टीम तैयार कर आरोपियों को पकड़ने के आदेश दिए जिस पर टीम ने तुरंत कार्रवाई करते हुए दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है|

 पुलिस टीम :-
इंस्पेक्टर संदीप मोर,Asi सुभाष चंद,Asi नरेंद्र ,Hc संदीप ,सिपाही सोहन पाल, सिपाही योगेश,सिपाही संदीप कुमार  |
 रिकवरी :- 
1.वारदात में प्रयोग मोबाइल  
2. चोरी किया हुआ मैमोरी कार्ड

Post A Comment:

0 comments: