बिष्णु दयाल ब्यूरो चीफ फरीदाबाद

Faridabad 25 अगस्त : आपको बताने चले कि दिनांक 24.08.2018 की  सुबह सेक्टर-48 हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में घर में सो रहे 1 कैब चालाक की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी जिसके चलते उसकी पत्नी डिम्पी निवासी मकान न० 451 हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी सेक्टर - 48 फरीदाबाद की दरखास्त पर दिनांक 24.08.2018 को मुकदमा  न०416 दिनांक  24.08.2018 U/S 302,120 B IPC,25-54-59 A.Act. थाना SGM नगर में दर्ज किया गया था ।

केस की गंभीरता को देखते हुए इस केस की तफ्तीश पुलिस उपायुक्त अपराध फरीदाबाद श्री लोकेन्द्र सिंह IPS ने अपराध शाखा DLF फरीदाबाद को दी वा तफ्तीश के लिए एक टीम का गठन किया । जो निम्नलिखित है: -

पुलिस टीम: - निरीक्षक नवीन कुमार, उप निरीक्षक ब्रहम प्रकाश, सहायक उप निरीक्षक कप्तान सिंह, मुख्य सिपाही आनन्द सिंह, मुख्य सिपाही कृषण(ड्राईवर ), मुख्य सिपाही कुलदीप , सिपाही आदित्य ,सिपाही अनिल , सिपाही प्रीतम

सुलझाई वारदात / केस का विवरण: -

दिनांक 24.08.2018 की  सुबह सेक्टर-48 हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में घर में सो रहे 1 कैब चालाक की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी मगर ऊपर के कमरे में सो रही उसकी पत्नी को गोली चले की आवाज सुनाई नही दी।

पुलिस ने बिट्टू सिंह के शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौप दिया था।

बिट्टू की पत्नी ने बताया था की मैं रात को करीब 1 बजे ऊपर के कमरे में अपनी लड़की को लेकर सोने चली गई थी व निचे मेरा 7 वर्षीय बेटा व मेरा पति बिट्टू सिंह सोया हुआ था सुबह करीब 5 बजे उठी तो देखा की बिट्टू के सर से खून बह रहा था और उसकी मौत हो चुकी थी घटना की सुचना पुलिस को दी गई थी पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर BK अस्पताल के शवगृह में रखवा दिया था ।

क्राइम ब्रांच DLF की टीम ने मामले की गहनता से जाँच की और बिट्टू के पड़ोसियों से बिट्टू व उसकी पत्नी के सम्बन्धो बारे जाँच की व उनकी दिनचर्या बारे जानकारी जुटाई जिससे टीम का बिट्टू की पत्नी डिम्पी उर्फ़ पिंकी पर शक गहराया जिससे गहनता से पूछताछ की व जिसने कड़ी पूछताछ के बाद हत्या का सारा राज उगल दिया।

इस केस शिकायत कर्ता पत्नी जो अब आरोपी है ने बताया कि हम बिहार से हैं जब हमारी शादी हुई तब मैं नाबालिक थी मेरी उम्र 12 साल थी हमारे 3 बच्चे हैं बड़ा बच्चा 14 साल का जो विकलांग है जो मेरी मां के पास बिजुलिया गाँव बिहार में हैं व दो बच्चे हमारे साथ ही रहते हैं ।

हम फरीदाबाद मे 2004 से रह रहे हैं , बिट्टू पहले SECURITY GUARD का काम करता था और अभी 5-6 साल से ऑटो चलता था।

मैं बिट्टू की सहमती से घर का खर्चा चलाने के लिए कई सालो से देह व्यापार का कार्य करती थी।

अब मैं पिछले 7-8 महीने से शेखर पुत्र  देवेन्द्र  नाथ निवासी मकान न० 285 सेक्टर - 48 फरीदाबाद के सम्पर्क में आ गई थी जो मुझे महीने में 3-4 बार जरुर बुलाता था जिसकी अभी शादी नही हुई है ।

मैंने शेखर कोअपने पति की अंदरूनी बातें कुछ दिन पहले बताई थी जो मेरा पति अपनी मर्ज़ी से इस काम के लिए भेजता था ,जब मैं दिए हुए समय से लेट हो जाती थी तो मेरा पति मुझे पीटता था जो मैं अपने पति की प्रताड़ना से तंग आ चुकी थी।

करीब 10 दिन पहले मैं लेट हो गई थी तो मेरे पति ने पिटाई करते हुए कहा कि तेरी बेटी को भी इसी काम में लगाऊंगा जिसके चलते मैंने व शेखर ने मेरे पति को जान से मारने की योजना बनाई थी।

बाद आज सुबह बिट्टू की पत्नी डिम्पी उर्फ़ पिंकी को गिरफ्तार कर लिया गया जिसके बताये अनुसार शेखर को भी गिरफ्तार कर लिया  ।
                                 
शेखर ने पूछताछ पर बताया कि मैं पिछले कई महीनो से बिट्टू की पत्नी डिम्पी के संपर्क में था बिट्टू की पत्नी ने मुझे 10 दिन पहले अपनी पीड़ा बताई थी जिस कारण मैं भी डिम्पी से प्यार करने लग गया था डिम्पी व मैंने बिट्टू को रास्ते से हटाने की योजना बनायीं व मैंने UP से 1 कट्टा व 2 जिन्दा रोंद खरीद लिए थे जो कल दिनांक 24.08.2018 को मेरी व डिम्पी की योजना अनुसार मैं रात को 3 बजे  डिम्पी के बुलाने पर बिट्टू को मारने के लिए उसके घर चला गया घर का दरवाजा योजनानुसार पहले ही खुला था जसे ही मैं घर गया सामने बिट्टू सो रहा था मैं अपना 315 बोर का कट्टा लोड करके ले गया था मैंने वहां 2 ही मिनट लगाये और बिट्टू को गोली मारकर फरार हो गया था।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि आज दिनांक 25.08.18 को दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जो मामले में गहनता से पूछताछ करने व वारदात में प्रयोग किया गया कट्टा व खोल  करने के लिय अदालत से एक दिन का पुलिस रिमांड लिया गया।

गिरफ्तार आरोपीयान का विवरण: -
1. शेखर  पुत्र  देवेन्द्र  नाथ निवासी मकान न० 285 सेक्टर - 48 फरीदाबाद ।

2. डिम्पी पत्नी बिट्टू सिंह  निवासी मकान न० 451 हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी सेक्टर - 48 फरीदाबाद
   फरीदाबाद ।

Post A Comment:

0 comments: