विष्णु दयाल ब्यूरो चीफ फरीदाबाद

फरीदाबाद21/09/2018 : समाज मे गुरु व शिष्य के रिश्तों को तार तार  करने वाली ये खबर बिहार की राजधानी पटना से है । खबर के मुताबिक बच्ची 5वीं में पढ़ती थी. करीब दो हफ्ते पहले उसकी थोड़ी तबीयत खराब हुई. उल्टियां, सिर चकराना, पेट के निचले हिस्से में दर्द. घरवाले डॉक्टर के पास ले गए. पता लगा, वो प्रेगनेंट है. 11 साल की बच्ची के पेट में तीन हफ्ते का बच्चा था. आरोप है कि स्कूल में प्रिंसिपल ऑफिस के अंदर उसके साथ गैंगरेप किया गया था. प्रिंसिपल ने अपने चैंबर में एक सीक्रेट बेडरूम बनाया हुआ था. इसी सीक्रेट बेडरूम के अंदर बच्ची का कई बार गैंगरेप किया गया.
आरोपी प्रिंसिपल के पिता खुद भी पुलिस में हैं
ये बिहार की राजधानी पटना की घटना है. बच्ची फुलवारी शरीफ इलाके के ‘न्यू सेंट्रल पब्लिक स्कूल’ में पढ़ती थी. ये बस 5वीं तक का स्कूल है. पुलिस ने स्कूल के प्रिंसिपल और एक टीचर को अरेस्ट किया है. आरोप है कि ये लोग पिछले एक महीने से लगातार उस बच्ची के साथ बलात्कार कर रहे थे. पुलिस के मुताबिक, प्रिंसिपल का नाम है राज सिंघानिया उर्फ अरविंद. टीचर का नाम है अभिषेक कुमार. तकरीबन एक महीने पहले अभिषेक ने बच्ची से कहा कि उसे प्रिंसिपल ने अपने कमरे में बुलाया है. बच्ची को बताया गया कि उसकी आंसर शीट की जांच करनी है. यहीं प्रिंसिपल के चैंबर में दोनों ने बच्ची के साथ बलात्कार किया. आरोपी प्रिंसिपल के पिता खुद भी पुलिस विभाग में हैं. प्रिंसिपल खुद को बेकसूर कह रहा है.
ब्लैकमेल करके कई बार रेप किया
बिहार पुलिस का कहना है कि जब अभिषेक और राज ने पहली बार बच्ची का रेप किया, तो मोबाइल पर उसकी विडियो रिकॉर्डिंग कर ली. उसी विडियो के सहारे बच्ची को ब्लैकमेल करके, डरा-धमकाकर वो बार-बार उसका रेप करने लगे. उन्होंने बच्ची से कहा कि अगर उसने किसी को भी ये बात बताई, तो उसका विडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर देंगे. इसी डर से बच्ची चुप रही. उसने अपने साथ हो रहे क्राइम के बारे में किसी से कुछ नहीं कहा.

Post A Comment:

0 comments: