विष्णु दयाल , ब्यूरो चीफ फरीदाबाद
फ़रीदाबाद 22/09/2018 : हमारे देश के अंदर जात पात की भावना इस कदर हावी हो गई है की अब शैक्षाणिक संस्थानों में भी इसका असर पूर्ण रूप से देखा जाता है ।
ताजा मामला मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के संसदीय क्षेत्र गोरखपुर का है जहाँ गोरखपुर विश्वविद्यालय  के दर्शनशास्त्र के शोध छात्र के जहर खाने  का मामला सामने आया है । गंभीर हालत में शोध छात्र को मेडिकल कालेज में  भर्ती करवाया गया है। छात्र का नाम दीपक कुमार बताया जा रहा है। दीपक कैंट इलाके में किराए के मकान में रहता है ।
छात्र के लिखित सुसाइड नोट के अनुसार दर्शनशास्त्र के विभागध्यक्ष और डीन उस शोधार्थी को हमेशा से ही जातिसूचक शब्दों से संबोधित करते थे । विभाग में बार बार जातिसूचक शब्दों से दुखी  व  बेइज्जती से यह छात्र काफी समय से  डिप्रेशन में था । छात्र ने विभागाध्यक्ष-डीन के कुलपति से शोधार्थी ने  लिखित शिकायत भी दी ।
शोध छात्र ने सुसाइड नोट में प्रोफेसरों पर प्रताड़ना का लगाया आरोप,
गोरखपुर विश्वविद्यालय के दर्शनशास्त्र का शोध छात्र है दीपक कुमार ।
चीफ प्रॉक्टर ने कैंट पुलिस को सूचना देकर मामले की जांच में जुट गये हैं ।

Post A Comment:

0 comments: