विष्णु दयाल ब्यूरो चीफ फरीदाबाद(हरियाणा)

फरीदाबाद 10/10/2018 : सिद्धपीठ श्री हनुमान मंदिर श्री सनातन धर्म महाबीर दल द्वारा मनाया जाने वाला दशहरा पर्व की अनुमति ना मिलने को लेकर महंत सरूप बिहारी शर्मा ने मंदिर के प्रागण में अनशन शरू  कर दिया। अनशन में उनके साथ सनातन धर्म महाबीर दल के महामंत्री मुकुल शर्मा दिल्ली से , सतवंत सिंह सूदन महामंत्री ,संजय बक्शी प्रदेश अध्यक्ष हरियाणा ,विपिन भाटिया सेवादार अनशन पर बैठे। इस पर महंत ने कहाकि यह अनशन तब तक चलेगा जब तक खुद  जिला प्रशासन, मंत्री कृष्णपाल गुर्जर और विधायक सीमा त्रिखा यहाँ आकर दशहरा पर्व मनाने की अनुमति नहीं देते। उन्होंने कहाकि एक तरफ तो सरकार हिन्दू धर्म को  बढ़ावा दे रही है दूसरी तरफ धर्म के सेवादारों से  धर्म के प्रति राजनीती कर रही है। उन्होंने कहाकि बनुवाल बिरादरी सिद्धपीठ श्री हनुमान मंदिर श्री सनातन धर्म महाबीर दल ही  शरू से ही एन आई टी में दशहरा पर्व का आयोजन करती आ रही है अचानक ऐसा क्या हुआ की कि तीन सालो से उन्हें दशहरा पर्व की अनुमति नहीं मिल रही यह हिन्दू धर्म और सनातन धर्म के खिलाफ है। यही के चलते आज मै और मेरे साथी अनशन पर बैठे है।
उन्होंने कहाकि इस दशहरा उत्सव पर राजनीति इतनी हावी हो रही है कि किसी भी तरह यह पर्व सिद्धपीठ श्री हनुमान मंदिर श्री सनातन धर्म महाबीर दल द्वारा नहीं मनाया जाना चाहिए। जो कि अपने आप एक निंदनीय कार्य है इस तरह के पर्वों पर भाजपा के नुमाईदों द्वारा राजनीति करना शर्म का विषय है और हिन्दू धर्म के साथ खिलवाड है। भाजपा सरकार अयोध्या में राम मंदिर बनवाने की बात करती है तो दूसरी सरकार के कुछ अधिकारी धर्म के साथ खिलवाड करने का काम कर रहे हैं। उन्होने कहा कि 17 अक्टूबर को पूरे देश से संत समाज भी हमारे ताकत बढाते हुए हमारे साथ अनशन पर बैठेंगे। अगर उसके बाद भी उन्हें अनुमति नहीं मिली तो पुरे देश से श्री सनातन धर्म महाबीर दल के पदाधिकारी इकठ्ठा होंगे और विरोध प्रदर्शन करेंगे।चाहे प्रशासन उन्हें जेल में क्यों न डाल दे। उन्होंने कहाकि उन्होंने प्रशासन को अनुमति के लिए 15 दिन का समय दिया था परन्तु अभी तक अनुमति नहीं मिली है इसी के चलते हमने अनशन पर बैठेने का निर्णय लिया और आज से अनशन शुरू।
सिद्धपीठ श्री हनुमान मंदिर  के प्रधान राजेश भाटिया, चैयरमेन संजय शर्मा ने सयुंक्त रूप से कहाकि  जिला प्रशासन मंत्री कृष्णपाल गुर्जर और विधायक सीमा त्रिखा के राजनैतिक के दवाब में है, और वह किसी भी तरह से दशहरा मनाने की अनुमति नहीं देना चाहता। श्री सनातन धर्म महाबीर दल पिछले 6 दशकों से भी अधिक समय से दशहरा पर्व मानती आई है।  प्रशासन हमारी संस्था को ही गलत ठहराने पर तुला है। दशहरे की अनुमति न देकर खुद प्रशासन माहौल खराब करने पर तुला है। इससे सरकार की छवि धूमिल हो रही है।  दशहरा पर्व की अनुमति न मिलने के कारण ही श्री सनातन धर्म महावीर दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष महंत सरूप बिहारी शर्मा के नेतृत्व में  कई संस्था के पदाधिकारी अनशन पर बैठे है।
इस मोके पर संजय खत्री ,अनिल अरोड़ा ,भारत अरोड़ा ,संजय शर्मा ,राजेश भाटिया पूर्व पार्षद , विजय अरोड़ा ,राधे श्याम ,श्याम बंगा , प्रेम बब्बर ,नरेश कुमार ,अजय ,रिंकल भाटिया , जतिन गाँधी ,गौरव गुलाटी, सन्नी भाटिया, अनुज नागपाल मौजूद थे।

Post A Comment:

0 comments: