विष्णु दयाल ब्यूरो चीफ फरीदाबाद

फरीदाबाद 26/11/18 : फरीदाबाद के एस.जी.एम. नगर स्थित आशा नन्द सीनियर सेकेंडरी स्कूल के समीप समस्त निवासियों द्वारा राधा कृष्ण मित्र मंडल के सहयोग से कालोनी में नौ दिवसीय भागवत कथा के आयोजन को लेकर भव्य कलश यात्रा का आयोजन किया गया। यह भगवत कथा 26 नवंबर से 3 दिसंबर तक चलेगी और 4 दिसंबर को भव्य भंडारे का आयोजन किया जाएगा। भगवत कथा के आयोजन से क्षेत्र में भक्ति एवं उत्साह का माहौल है।
उक्त कलश यात्रा में सैकङो कन्याएं एवं महिलाओं ने सिर पर मिट्टी का कलश लेकर शामिल हुई। सभी कन्या व महिलाओं के कलश पर जल संग्रह करते  हुए अपने अपने सिर पर कलश लेकर जय जय कार लगाते हुए धर्म की जय हो, अधर्म की नाश हो एवं हरे कृष्ण, हरे कृष्ण, कृष्ण, कृष्ण हरे, हरे, हरे राम, हरे राम, राम राम, हरे हरे आदि के गुन गान के साथ पूरा कालोनी भ्रमण करते हुए भागवत स्थल तक पहुँची ।
कथा वाचक, रोशन लाल वशिष्ठ जी  ने कहा कि श्रीमद भागवत समस्त वेदों का सार है। आध्यात्मिक तत्वों को प्रकाशित कराने वाला यह एक अद्वितीय दीपक है। भागवत में भगवान श्रीकृष्ण का आनंदमय स्वरूप, वेदों उपनिषदों का सार है।
वही क्षेत्र के समाजसेवी एवं अध्यक्ष नेता श्री विजय प्रताप  भी इस कलश कलश यात्रा में शामिल हुए। विजय प्रताप  जी ने कहा कि श्रीमद भागवत सुनने से मन को शांति मिलती है। जहां भगवान के नाम नियमित रूप से लिया जाता है वहां सुख, समृद्धि व शांति बनी रहती है। जीवन को कर्मशील बनाना है तो श्रीमदभागवत कथा सुनें। यह जीवन जीने की कला सिखाती है। इस मौके पर प्रबंधक भारत भूषण आर्य व प्रधान शिवचरण गर्ग जी बताया की इस कालोनी निवासियों के असीम सहयोग से पिछले 15 वर्षोँ से लगातार भगवत कथा का आयोजन किया जा रहा है |
यह भगवत कथा 26 नवंबर से 3 दिसंबर तक चलेगी और 4 दिसंबर को भव्य भंडारे का आयोजन किया जाएगा । जिसमें काफी श्रद्धालु भाग लेंगे। जिसे सुन कर हजारों भक्त अपना जीवन सफल बना रहे हैं |
इस कार्यक्रम में समाजसेवी जयपाल चेंदेला , महेश प्रधान ,दिनेश गर्ग , विनोद कौशिक , विष्णु अग्रवाल , डी.पी.सिंह , एडवोकेट राजकुमार गौतम राव , रोहताश यादव ,राजकुमार शर्मा ,दिनेश , विनोद अग्रवाल , फ़तेह चंद गर्ग, महेश,अनिल नागपाल,दिलीप शर्मा , वशुदेव शर्मा , जयपाल सिंघला ,मूलचंद गर्ग , ओमप्रकाश सिंघला , पंकज शर्मा , सरदार गुरुचरण सिंह ,डाo अनिल कुमार चुघ , सुरेन्द्र कुमार दुग्गल , सीमा कौशिक व अलका आर्य का विशेष सहयोग रहा |

Post A Comment:

0 comments: