विष्णु दयाल ब्यूरो चीफ फरीदाबाद

फरीदाबाद,1 जनवरी। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी ने उद्योग एवं पर्यावरण मंत्री विपुल गोयल द्वारा आयोजित शंखनाद रैली को पूरी तरह से फ्लॉप शो बताया है। उन्होंने कहा कि यह रैली थोथा चना-बाजे घना वाली कहावत चरित्रार्थ करके गई है क्योंकि रैली में मुख्यमंत्री फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र के लिए कोई भी बड़ी विकास परियोजना देकर नहीं गए। उन्होंने कहा कि रैली से साबित हो गया है कि फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र के लोगों का विपुल गोयल के ऊपर से विश्वास उठ चुका है और यहां के लोगों ने 2019 के लिए मंत्री विपुल गोयल के खिलाफ ही शंखनाद कर दिया है। जिसकी बानगी यह है कि रैली में भीड जुटाने के लिए मंत्री जी को समूचे फरीदाबाद के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों के अलावा दूसरे जिला पलवल व नूंह तथा सोहना व फिरोजपुर झिरका व दिल्ली बरदपुर तक भागना पड़ा है। रैली पूरी तरह से थैली रैली के रूप में साबित हुई है क्योंकि सोशल मीडिया व न्यूज चैनलों में सरेआम लोगों को कहते देखा गया कि किस तरह से लोगों को 500-500 रूपये, तो कहीं महिलाओं को राशन देकर लाया गया तो कही कंपनियों को बंद करवाकर उनकी लेबर को लाने का दवाब बनाया गया। रैली में भीड़ जुटाने के लिए पूरी तरह से सरकारी रौब व दवाब तथा प्रशासन का दुरूपयोग किया गया वहीं स्कूलों पर दवाब बनाकर वाहनों को मंगाया गया और हद तो तब हो गई जब मुख्यमंत्री भाषण दे रहे थे तो भीड़ उठकर चली गई और कुर्सियां खाली हो गई। उन्होंने कहा कि यह तो किराए की भीड थी उन्हें पता ही नहीं था कि खट्टर की रैली में जाना है यह भी कहीं और? कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी मंगलवार को नीलम-बाटा रोड स्थित होटल डिलाईट में आयोजित पत्रकार सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उनके साथ असंगठित कामगार कांग्रेस हरियाणा के चेयरमैन ज्ञानचंद आहुजा, राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के जोनल प्रभारी डा. धर्मदेव आर्य, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अनीशपाल व पूर्व महासचिव नीरज गुप्ता आदि अनेकों वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मौजूद थे।
कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी ने भाजपा सरकार पर जोरदार तंज कसते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को झूठचंद खट्टर व उद्योगमंत्री विपुल गोयल को घोषणा मंत्री करार देकर जमकर घेरा। उन्होंने कहा कि जिला फरीदाबाद की 5 विधानसभा क्षेत्रों के लिए मुख्यमंत्री द्वारा कुल 1225 करोड़ रुपये की अब से पूर्व घोषणा की गई है, लेकिन उनमें से अब तक मात्र 351 करोड़ की राशि आना ही दर्शाया गया है, जब साढ़े चार साल में मुख्यमंत्री जी पूर्व की घोषणाओं की राशि नहीं दिलवा पाए तो अब लोकसभा चुनाव से मात्र पहले की गई घोषणाएं कैसे पूरी होगी, ये घोषणाएं मात्र चुनावी जुमला ही साबित होगी। उन्होंने फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र का जिक्र करते हुए कहा कि शंखनाद रैली में जितनी भी घोषणाएं की, उनमें से एकाध को छोडक़र बाकि अन्य विधानसभा क्षेत्रों से संबंधित थीं। फरीदाबाद विधानसभा जहां से विपुल गोयल मौजूदा विधायक हैं उसके लिए मुख्यमंत्री ने मात्र 50 करोड़ रूपये देने की घोषणा की है जो ऊंट के मुंह में जीरा के बराबर है। लेकिन यह भी मात्र घोषणा ही रह जाएगी क्योंकि इन्हीं मंत्री जी विपुल गोयल की दो साल पूर्व 14 मई, 2016 में आयोजित डिजिटल रैली में इन्हीं मुख्यमंत्री मनोहरलाल जी ने 150 करोड़ रुपये की परियोजनाओं की घोषणा की थी जिनमें से आज-तक एक भी घोषणा पूरी नहीं हुई है फिर यह कैसे पूरी होंगी यह लोगों की समझ से परे हैं क्योंकि अब जल्द ही एक-दो महिने बाद लोकसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लग जाएगी। उन्होंने कहा कि 2016 में फरीदाबाद विधानसभा में नया सरकारी कॉलेज, 50 बैड का अस्पताल, 26 सरकारी स्कूलों का उद्धार करने के अलावा युवाओं को रोजगार देने के लिए यहां मदर यूनिट लगाने की घोषणा की थी। लेकिन आज मंत्री जी बताएं कि इनमें से कौन सी योजना पूरी हुई है। फरीदाबाद में युवाओं के समक्ष बेराजगारी की समस्या बढ़ती जा रही है और नोटबंदी व जीएसटी के बाद व्यापार पूरी तरह से ठप्प पडा है। एक भी मदर यूनिट फरीदाबाद में नहीं आई है। हां लगभग एक साल पूर्व जीओनी कंपनी को यहां लाने के बड़े-बड़े वायदे किए थे लेकिन चर्चा आम है कि उससे भी मोटा सुविधा शुल्क मांगा जिसके बाद वह यहां से चलती बनी और जीओनी कंपनी तो क्या जीओनी की एक वर्कशॉप भी नहीं लगी। प्रदूषण के मामले में भी फरीदाबाद इन दिनों सबसे ज्यादा प्रदूषित शहरों में शुमार है और बड़े शर्म की बात है कि मंत्री महोदय ने शंखनाद रैली में मुख्यमंत्री के समक्ष फरीदाबाद में बढ़ते प्रदूषण को खत्म करने के लिए मुद्दा उठाया तक भी नहीं वहीं जगह-जगह पडे गंदगी के ढेर स्मार्ट सिटी की कलई खोल रहे हैं। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी ने कहा कि इससे बड़ी और क्या जुमलेबाजी होगी कि मंत्री विपुल गोयल ने पिछले दिनों फरीदाबाद नगर निगम के सभी चालीस वाडों में सफाई के लिए 40 ट्रेक्टर मंगवाकर प्रत्येक वार्ड में देने की घोषणा की और बकायदा ट्रेक्टरों के साथ मंत्री जी का फोटो सैशन भी हुआ और अगले ही दिन पता चला कि सभी ट्रेक्टर कंपनी ने वापिस मंगवा लिए हैं क्योंकि उनकी पेमेंट ही नहीं हुई थी वह तो मात्र लोगों को गुमराह करने के लिए फोटो सैशन के लिए ही बुलाए थे। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी ने पत्रकारों द्वारा पूरे गए एक सवाल के जवाब में मंत्री विपुल पर हल्ला बोलते हुए कहा कि इस रैली से विधानसभा क्षेत्र के लोगों ने तो दूरियां बनाई ही थी, साथ ही साथ स्थानीय सांसद और केन्द्र में मंत्री, सरकार में चेयरमैन की कुर्सी पर बैठे भाजपा नेताओं यहां तक की शहर की प्रथम नागरिक मेयर व अनेकों पार्षदों तथा जिला परिषद के चेयरमैन तक ने भी रैली से दूरी बनाकर एक तरह से संदेश दे दिया कि उन्हें विपुल गोयल में विश्वास नहीं है। विकास चौधरी ने दावा किया कि जिस तरह से हाल ही में तीन प्रदेशों में भाजपा सरकार की करारी हार हुई उसी प्रकार से फरीदाबाद सहित हरियाणा में भी कांग्रेस की सरकार होगी तथा देश में राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनेंगे वहीं हरियाणा में डॉ. अशोक तंवर मुख्यमंत्री की कुर्सी पर विराजमान होंगे।

Post A Comment:

0 comments: