नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस ने प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) की पॉलिटिकल एंट्री कराकर अपना सबसे बड़ा सियासी दांव चल दिया. प्रियंका गांधी को कांग्रेस महासचिव बनाए जाने और पूर्वी उत्तर प्रदेश यानी पूर्वांचल का प्रभार सौंपने के बाद ऐसी अटकलें तेज हो गई हैं कि प्रियंका गांधी वाड्रा लोकसभा चुनाव लड़ सकती हैं. कांग्रेस के दिग्गज नेता कपिल सिब्बल ने प्रियंका गांधी को कांग्रेस महासचिव बनाए जाने के बाद एक ट्वीट किया है, जिससे अटकलों का बाजार तेज हो गया है. कपिल सिब्बल का ट्वीट जिस ओर इशारा करता दिख रहा है, अगर वह सही साबित होता है तो प्रियंका गांधी पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी या सीएम योगी के संसदीय क्षेत्र रहे गोरखपुर से चुनाव लड़ सकती हैं. हालांकि, अभी तक इसकी पुष्टि नहीं की गई है. 

दरअसल, कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने गुरुवार को एक ट्वीट किया. इस ट्वीट में उन्होंने पीएम मोदी और अमित शाह के कांग्रेस मुक्त भारत का जिक्र किया गया है. साथ ही उन्होंने यह भी लिखा है कि प्रियंका गांधी की पूर्वी यूपी में एंट्री से क्या पीएम मोदी मुक्त वाराणसी या फिर सीएम योगी मुक्त गोरखपुर होगा? . हालांकि, कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि प्रियंका गांधी अपनी मां सोनिया गांधी की परंपरागत सीट रायबरेली से चुनाव लड़ सकती हैं. मगर इन सब पर अभी तक कोई औपचारिक बयान नहीं आया है.
इस ट्वीट के सियासी मायने इसलिए भी लगाए जा रहे हैं क्योंकि 2014 में पीएम मोदी ने वाराणसी से भी चुनाव लड़ा था और वही उनका संसदीय क्षेत्र भी है. वहीं सीएम योगी गोरखपुर से चुनाव लड़े थे. अब इस ट्वीट से इस बात की ओर इशारा किया जा रहा है कि या तो प्रियंका गांधी वाराणसी से चुनाव लड़ेंगी तो पीएम मोदी को टक्कर देंगी और अगर गोरखपुर से लड़ेंगी तो सीएम योगी को. हालांकि, सीएम योगी अभी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं और अभी गोरखपुर लोकसभा सीट सपा के पास. 
बता दें कि यूपी में सपा-बसपा गठबंधन को देखते हुए यूपी में खुद को मजबूत करने के लिए कांग्रेस ने पूर्वी और पश्चिमी यूपी की कमान क्रमश: प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया को दी है. कांग्रेस सूत्रों की मानें तो एक समय कांग्रेस 10 सीटों की ओर देख रही थी, मगर प्रियंका गांधी के आने से कांग्रेस की नजर अब कम से कम 30 सीटें जीतने पर हो गई हैं. 

Post A Comment:

0 comments: