विष्णु दयाल ब्यूरो चीफ फरीदाबाद


फरीदाबाद, 15 फरवरी: मानव रचना शैक्षणिक संस्थान में दो दिवसीय मित्सुबिशी इलेक्ट्रिक कप का आयोजन किया जा रहा है। इस साल का थीम ‘Digital Industry through Smart Imagination’ है। पहले दिन एग्जीबिशन का उद्घाटन किया गया, जिसमें मित्सुबिशी जापान के फेलो एडवाइजर डॉ. गौरव मजूमदार ने बतौर मुख्य अतिथि हिस्सा लिया। इसके अलावा मित्सुबिशी जापान के डिविजन हेड Hisahiro Nishimoto, मानव रचना शैक्षणिक संस्थान के वीपी डॉ. अमित भल्ला, एमआरआईआईआरएस के वीसी डॉ. एनसी वाधवा, मित्सुबिशी इलेक्ट्रिक इंडिया-कॉर्पोरेट सर्विसेज हेड राजीव शर्मा, मानव रचना यूनिवर्सिटी के वीसी डॉ. आईके भट्ट, फैक्ट्री ऑटोमेशन सेंटर के जीएम विक्रम मट्टू और इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग की एचओडी डॉ. अनीता खोसला समेत कई लोगों ने हिस्सा लिया।


पहले दिन पैनल डिस्कशन, क्लासरूम सेशन और कल्चरल ईवनिंग का आयोजन किया गया। मित्सुबिशी इलेक्ट्रिक कप के लिए देशभर से 134 छात्रों ने अपने प्रोजेक्ट शोकेस किए थे लेकिन 35 टीम ग्रांड फिनाले तक पहुंचने में कामयाब रही। फर्स्ट प्राइज जीतने वाले को एक लाख रुपए, दूसरे नंबर के विजेता को 75 हजार, तीसरे नंबर के विजेता को 50 हजार और 10 हजार के कोन्सोलेशन प्राइज किए जाएंगे।

डॉ. गौरव मजूमदार ने कहा कि मित्सुबिशी इलेक्ट्रिक कप की शुरुआत नए टैलेंट को मौका देने के लिए की गई है। छात्रों को इस मौके का भरपूर फायदा उठाना चाहिए। उन्होंने कहा, हम भारत सरकार की स्किल इंडिया और डिजिटल इंडिया योजना का  समर्थन करते हैं। उन्होंने बताया कि मित्सुबिशी ‘सोशियो टेक’ यानी कि टेक्नोलॉजी फॉर सोसाइटी में विश्वास रखती है।

मानव रचना शैक्षणिक संस्थान के वीपी डॉ. अमित भल्ला ने कहा, मुझे युवाओं से बहुत कुछ सीखने को मिलता है। मानव रचना शैक्षणिक संस्थान इनोवेशन में विश्वास रखता है। उन्होंने कहा, जिस तरह तकनीक 4.0 की ओर बढ़ रही उसी तरह मानव रचना भी बदलते समय के साथ 4.0 एजुकेशन की तरफ अपने कदम बढ़ा रहा है।

आपको बता दें, कल (शनिवार) कार्यक्रम के दूसरे दिन रोबो लैब का उद्घाटन किया जाएगा। इसके अलावा एआईसीटीई के वाइस चेयरमैन डॉ. एमपी पूनिया कार्यक्रम में शामिल होंगे और विजेता छात्रों को सम्मानित करेंगे।

Post A Comment:

0 comments: