विष्णु दयाल ब्यूरो चीफ फरीदाबाद

फरीदाबाद, 9 अप्रैल: मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज़ (MRIIRS) में WASH फोरम पर एक परामर्श कार्यशाला का आयोजन किया गया। यह WASH इनोवेशन लैब, नगर निगम फरीदाबाद (MCF) और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा MRIIRS में संयुक्त रूप से आयोजित किया गया था। इस कार्यशाला का उद्देश्य वॉश इनोवेशन लैब में कार्यप्रणाली और सूत्रीकरण पर चर्चा करना था। IHUWASH परियोजना भारत के तीन शहरों - हरियाणा के फरीदाबाद, कर्नाटक के मैसूरु और राजस्थान के उदयपुर में लागू की जा रही है। 

वॉश (WASH) फोरम सरकार, शिक्षाविदों, निजी क्षेत्र उद्योगों, नागरिक समाज और आम जनता के प्रतिनिधियों का एक नेटवर्क होगा, जो फरीदाबाद में नवीन रूप से पानी, स्वच्छता और हाइजीन से संबंधित चुनौतियों को बेहतर बनाने में योगदान करना चाहते हैं। फोरम का समग्र उद्देश्य व्यक्तिगत शहर के नगर निगमों और WASH इनोवेशन लैब्स के सहयोग से IHUWASH के होस्ट प्रोजेक्ट शहरों द्वारा WASH मुद्दों के स्वामित्व को संस्थागत बनाना है। इस मौके पर समाज के विभिन्न क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व कर रहे 40 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन ऑफ फरीदाबाद की कमिश्नर अनीता यादव, आईएएस  ने कार्यशाला की अध्यक्षता की। इस दौरान उन्होंने कहा, MCF की ओर से शहर को हरित और स्वच्छ बनाने के लिए उठाए जा रहे कदमों के बारे में चर्चा की। उन्होंने कहा एमसीएफ सीएसआर फंड का भी रास्ता अपना रहा  ताकि शहर को और भी सुंदर बनाया जा सके।
विस्तृत चर्चा और विचार-विमर्श के बाद, यह निर्णय लिया गया कि फरीदाबाद में WASH फोरम की देखरेख के लिए एक 12-सदस्यीय गवर्निंग काउंसिल का गठन किया जाएगा, जिसकी अध्यक्षता एमसीएफ कमिश्नर करेंगे। कार्यक्रम में एमआरआईआईआऱएस के वीसी डॉ. संजय श्रीवास्तव, डीजी डॉ. एनसी वाधवा, डॉ. के चड्ढा और डॉ सरिता सचदेवा समेत कई गणमान्य लोग मौजूद रहे।

Post A Comment:

0 comments: