विष्णु दयाल ब्यूरो चीफ फरीदाबाद

1 जनवरी 2020: सुख, समृद्धि और शांति की कामना के साथ मानव रचना परिवार में नए साल की शुरुआत हवन और भंडारे के साथ की जाती है। कुछ इसी तरह साल 2020 की भी शुरुआत की गई। इस दौरान समस्त मानव रचना परिवार ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। 26 दिसंबर से महामृत्युंजय यज्ञ की शुरुआत की गई थी और आज (पहली जनवरी को) संस्थान में यज्ञ की पूर्णाहूति दी गई। मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर-14 के छात्रों ने इस दौरान भजन और कीर्तन किया।  नए साल के मौके पर स्वामि ज्ञानानंद जी महाराज ने बतौर मुख्य अतिथि हिस्सा लिया।  उन्होंने अपने संबोधन मानव रचना शैक्षणिक संस्थान में यज्ञ के साथ नए साल की शुरुआत कर संस्कृति को बढ़ावा देने वाले इस कदम की बेहद तारीफ की और सभी को नए साल की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा, जिस दिव्यता के साथ यहां नए साल की शुरुआत की गई है, परमात्मा की कृपा सदा यहां रहेगी।

अपने संबोधन में मानव रचना शैक्षणिक संस्थान की मुख्य संरक्षक सत्या भल्ला ने सभी को नववर्ष की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा, हम डॉ. ओपी भल्ला की सोच को लेकर आगे बढ़ रहे हैं। आज नए साल के मौके पर खुशी से आगे बढ़ते हैं और दु:खों को पीछे छोड़ते हैं। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि जिस तरह साल 2019 में हम सबने एकजुट होकर संस्थान को आगे बढ़ाने के कार्य किया है, वैसे ही हम नए साल में भी करेंगे।

नए साल के मौके पर उन 100 कर्मचारियों को सम्मानित किया गया जिन्होंने संस्थान में 10 साल पूरे किए। इसके अलावा मानव रचना इंनोवेशन एंड इन्क्यूबेशन सेंटर के डायरेक्टर उमेश दत्ता और रिसर्च स्कॉलर विकास शर्मा द्वारा लिखी गई MSP 340 टेक्सस इंस्ट्रूमेंट्स किताब का भी विमोचन किया गया।

कार्यक्रम में मानव रचना शैक्षणिक संस्थान के अध्यक्ष डॉ. प्रशांत भल्ला, उपाध्यक्ष डॉ. अमित भल्ला, एमआरआईआईआरएस के वीसी डॉ. संजय श्रीवास्तव, एमआरयू के वीसी डॉ. आईके भट्ट, संस्थान के ट्रस्टी डॉ. एमएम कथूरिया, दिपिका भल्ला, निशा भल्ला, सनी बंसल समेत कई लोग वरिष्ठ लोग मौजूद रहे।

Post A Comment:

0 comments: