आशीष कुमार गुप्ता की रिपोर्ट:- *नई दिल्ली।* देश जनता कर्फ्यू से पहले की कर्फ्यू जैसे हालात बनते जा रहे हैं। दूसरी ओर बुरी खबर यह है कि अब देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 285 हो गई है। जबकि संक्रमितों के संपर्क में आने वाले 6,700 से अधिक लोगों को कड़ी निगरानी में रखा गया है।
कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए आज से तीन दिनों के लिए दिल्ली के सभी बाजार बंद रहेंगे। कैट के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल के मुताबिक डेयरी, दवाएं, सब्जी और राशन की दुकानें खुली रहेंगी, ताकि लोगों को दिक्कत न हो और उनकी आम जरूरतें पूरी होती रहें।
23 मार्च की शाम को एसोसिएशन स्थिति की समीक्षा किए जाने के बाद आगे के बारे में फैसला करेगी।
गौरतलब है कि राजधानी दिल्ली में दिल्ली सरकार के आदेश के बाद सभी मॉल पहले ही बंद किए जा चुके हैं। खान मार्केट रविवार और सोमवार को बंद रहेगा। दिल्ली सरकार के अंतर्गत आने वाले सभी गैरजरूरी दफ्तर और सेवाएं 31 मार्च तक बंद कर दी गई हैं।
राजस्थान के भीलवाड़ा में कर्फ्यू लगाया गया दिया गया है। बॉर्डर सील कर दी गई है। शहर को दो दिनों के लिए बंद किया गया है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी। मंत्रालय ने बताया कि देश में COVID-19 से संक्रमितों में 32 विदेशी हैं, जिनमें 17 इतालवी, तीन फिलीपीन के, दो ब्रिटेन और एक-एक कनाडा, इंडोनेशिया और सिंगापुर का निवासी है। इनमें अबतक दिल्ली, कर्नाटक, पंजाब और महाराष्ट्र में हुई चार मौतें भी शामिल है।
उधर कोरोना के संक्रमण के खतरे को देखते हुए दिल्ली के कालकाजी मंदिर को 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है। उधर आरएसएस ने ट्वीट करके कहा है कि – प्रधानमंत्री के 22 मार्च के जनता कर्फ्यू के आवाह्न को ध्यान में रख कर शाखायें उस दिन प्रात:6.30 से पहले या रात्रि 9.30 बजे के बाद लगेंगी। अपने-अपने क्षेत्र,मोहल्ला या सोसायटी में सुविधानुसार कुछ स्वयंसेवक एकत्र होकर भी प्रार्थना कर सकते हैं।

Post A Comment:

0 comments: