रंजीत मौरिया की रिपोर्ट:- *नई दिल्ली:* दिल्ली सरकार की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है।
आज दिनांक *24/03/2020* नजफगढ़ से नरेला जाने वाली रूट न. 708 की डीटीसी की लाल ऎ. सी. बस DL1PC 9824 में एक व्यक्ति चलती बस में बेहोंश हो गया बस ड्राइवर, कंडक्टर और मार्शल की सूझबूझ से एम्बुलेंस और पुलिस को कॉल किया गया।
एम्बुलेंस आने के बाद पता चला कि वो व्यक्ति कोरोना के लक्षण से प्रभावित है उसके साथ लगभग 3-4 और लोग थे।
अगर बस में 3-4 लोगो के कारण बस में सवार अन्य लोगो को भी अगर वही बीमारी हो गयी तो उसका जिम्मेदार कौन होगा
लोगो की जान बचाने के लिए कर्फ्यू लगाया जा रहा है पूरे देश के पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद है लेकिन दिल्ली सरकार द्वारा उनको और बढ़ाया जा रहा है अगर किसी 1 बस में 1 भी कोरोना से संक्रमित व्यक्ति आ जाता है तो वो बस में बैठे कम से कम 10 लोगों तक को संक्रमित कर सकता है जिस हिसाब से कर्फ्यू लगने के बाद भी बसों को चलाया जा रहा है और पब्लिस कानून का सही से पालन नही कर रही है भीड़ बसों में हो रही है उससे आने वाले समय मे ये बीमारी आपके घर तक पहुच जाएगी। इसीलिए बसों को तत्काल प्रभाव से बंद किया जाना चाहिए और सब लोगो से निवेदन है कि आप अपने घर मे रहे इस बीमारी का मरीज आपको कंही भी मिल सकता है तो आप कृपया घर में ही रहे।!

Post A Comment:

0 comments: