प्रमोद कुमार जायसवाल की रिपोर्ट -:नई दिल्ली: उत्‍तर प्रदेश में कोरोना वायरस से निपटने के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार अपना पूरा दमखम लगा रही है. लेकिन कई स्थानों पर लोगों का अपेक्षित सहयोग नहीं मिलने से इस महामारी के खिलाफ लड़ाई के कमजोर होने का भी डर है. सीएम योगी ने भी कई जिलों में लॉकडाउन को प्रभावी तरीके से लागू नहीं किए जाने पर नाराजगी जताई है. उत्तर प्रदेश के अपर मुख्‍य सचिव अवनीश अवस्‍थी ने एक पत्र जारी कर राज्य के कई जिलों में लॉकडाउन की स्थिति पर असंतोष जताया है. इन जिलों में लोगों द्वारा लॉकडाउन का पालन कठोरता के साथ नहीं किया जा रहा है.
योगी सरकार की ओर से संबंधित जिला प्रशासन को पत्र जारी कर कहा गया है कि वे लॉकडाउन का कठोरता से पालन कराने हेतु प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित करे. योगी सरकार ने लॉकडाउन को लेकर असंतोषजनक जिलों में पुलिस प्रशासन स्तर पर सुधार की जरूरत बताई है. अपर मुख्‍य सचिव अवनीश अवस्‍थी की ओर से जारी किए गए इस पत्र के बाद डीजीपी हितेश चन्द्र अवस्थी एक्शन में आ गए हैं. उन्होंने संबंधित जिलों के पुलिस प्रमुखों से लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराए जाने के निर्देश दिए हैं.।
जिन जिलों में लॉकडाउन के पालन में सख्ती की जरूरत बताई गई है उनमें लखनऊ, कानपुर, गोरखपुर, आगरा, बस्ती, उन्नाव, कन्नौज, संतकबीरनगर, मैनपुरी शामिल हैं. डीजीपी ने संबंधित जिलों के पुलिस कप्तानों को सभी हॉट स्पॉट क्षेत्रों में लोगों के आने-जाने पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाने के निर्देश दिए हैं. साथ ही स्वास्थ्य विभाग और दमकल कर्मियों के सहयोग से इन क्षेत्रों को सैनिटाइज कराने के लिए कहा है. ​सभी जिलों के चिन्हित हॉट स्पॉट इलाकों में मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस को फुट पेट्रोलिंग के निर्देश गए हैं.।
डीजीपी ने प्रदेश के सभी जिलों के पुलिस कप्तानों से लॉकडाउन में अनावश्यक रूप से बाहर निकलने वालों पर सख्त कार्रवाई करने के लिए कहा है. हॉट स्पॉट इलाकों में ड्रोन कैमरे से निगरानी रखने और सेक्टर स्किम कड़ाई से लागू करने के निर्देश दिए गए हैं. चिन्हित हॉट स्पॉट क्षेत्रों में बैंक और राशन की दुकानें बंद रखने के लिए कहा गया है. साथ ही इन क्षेत्रों के मकानों का सत्यापन कर सूची बनाने के निर्देश दिए गए हैं.।

Post A Comment:

0 comments: