आर. डी. शर्मा की रिपोर्ट उतर प्रदेश के जनपद महराजगंज के नौतनवा में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए इस बार अलविदा व ईद की नवाज कहाँ पढ़ी जाय इसको लेकर मुस्लिम समुदाय के बीच असमंजस की स्थिति बनी हुई थी जिसको दूर करने का प्रयास नौतनवा नगर पालिका अध्यक्ष *गुड़डू खान* ने अपने कैम्प कार्यालय पर सोसल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए एक बैठक आहूत कर किया जिसमे नगर के चौकी प्रभारी *संजय दूबे* एवं मुस्लिम
समुदाय से जुड़े तमाम ओलमा हजरात उपस्थित होकर इस त्यौहार को किस तरह सफल बनाया जाय इस पर विचार विमर्श किया।
       इस बैठक में सर्वसम्मति से यह निर्णय हुआ कि अलविदा की नवाज हो या ईद की नवाज सभी लोग लॉकडाउन का पालन करते हुए अपने-अपने घरों में पढ़ेंगे।
   
 इस अवसर पर *पालिका अध्यक्ष* ने बताया कि शासन की मंशा अनूरूप मुस्लिम समुदाय के लोग अलविदा व ईद की नवाज अपने-अपने घरों में रहकर पढ़ेंगे ताकी कोरोना की कड़ी को तोड़ा जा सके।
      वही *चौकी प्रभारी* ने बताया कि "कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए सभी का यह दायित्व बनता है कि शासन के बनाये गाइडलाइन का पालन करे तथा कम से कम घर से बाहर निकले।
        इस बैठक में मौलाना अबुलकलाम,मौलाना कमरुल हसन,हाजी रफत अली आदि लोग उपस्थित रहे।

Post A Comment:

0 comments: