मध्यप्रदेश राहतगढ़ बबलू बंसल रिपोर्ट
मध्यप्रदेश के राहतगढ़ से जल्लाद की सच्चाई बता रहे हैं जिसने अपनी ही बच्ची को जिंदा जलाया राहतगढ़ के 15 नंबर वार्ड में रहते हैं। देश लोग डाउन है कोरोना वायरस से दुनिया लड़ रही है। लेकिन कुछ लोग मोहब्बत का गला घोट कर उसे जिंदा जलाने का अपराध सामने आया है। ऐसी ही घटना एक मध्य प्रदेश की राहतगढ़ से मिली है जहां पर एक पिता ने अपनी बच्ची को भी और उसके प्रेमी को भी जिंदा जला दिया है। यह वारदात रखो काम जाने वाली है इन दोनों का इलाज जिला अस्पताल सागर में चल रहा है। यह घटना राहतगढ़ के 15 नंबर वार्ड में गोत्री रात 3:00 बजे की बताई जा रही है जहां पर सोनू साहू नाम का लड़का रहता था प्रेमी विनीता हर बार पिता रामप्रसाद अहिरवार दोनों साथ में पहुंचे और सोनू की मां भी साथ में थी। रामप्रसाद ने बिना कुछ कहे वो सोनू के ऊपर केरोसिन डाल दिया और माचिस की तीली जला कर फेंक दी। और उसके बाद उसने अपनी बच्ची के साथ भी विनीता नाम की लड़की को भी केरोसिन डालकर जला दिया। बाढ़ में मची हड़कंप तो सभी लोग बाहर निकले तब तक सोनू और विनीता हर बार 65% जल चुके थे। दोनों की हालत देखकर उन्हें सागर की जिला अस्पताल में रेफर किया गया और पुलिस प्रशासन का कहना है कि दोनों पक्षों से ही अपराधी विदेश की जांच कर रहे हैं।

Post A Comment:

0 comments: