आर. डी. शर्मा की रिपोर्ट उत्तर प्रदेश के जनपद महराजगंज के निचलौल क्षेत्र के सेमरहना गांव में गुरुवार की रात में रास्ते में ट्रॉली खड़ी करने के विवाद को लेकर मारपीट हो गई। एक परिवार के लोगों ने लामबंद  होकर गुड्डू नामक युवक की बुरी तरह पिटाई कर दी। इलाज के लिए उसे मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया, जहां शुक्रवार को उसकी मौत हो गई। इस मामले में पुलिस ने मृतक की पत्नी की तहरीर पर आरोपित ग्राम प्रधान समेत उसके पांच परिजनों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया है।
गांव निवासी गुड्डू गुरुवार की शाम किसी काम से बाहर गया था। रात को वह लौटा तो गांव के सार्वजनिक रास्ते पर प्रधान के घर के लोगों ने ट्राली खड़ी कर दी थी। गुड्डू की पत्नी किरन ने पुलिस को तहरीर देकर आरोप लगाया कि सड़क में ट्रॉली खड़ी करने का विरोध करने पर प्रधान के पुत्र राकेश चौहान, सत्यशंकर, मनीष, प्रधान पार्वती देवी व संध्या ने गोलबंद होकर उसके पति को लाठी-डंडे से पीटकर अधमरा कर दिया।महिला का आरोप है कि इन लोगों से किसी तरह से बचकर जब उसके पति घर की ओर आए तब फिर ये लोग उसको जबरन उठा ले गए और फिर से पिटाई करने लगे। तब तक गांव के लोग जुट गए और किसी तरह उसकी जान बचाई। इस बीच पहुंची पुलिस घायल गुड्डू को इलाज के लिएसीएचसी निचलौल ले गई। सीएचसी के डॉक्टरों ने गंभीर हालत में गुड्डू को जिला अस्पताल रेफर कर दिया और जिला अस्पताल से भी उसे रात को ही मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया। मेडिकल कालेज में इलाज के दौरानउसकी मौत हो गई। मामले में पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम को भेज दिया है। मृतक की पत्नी की तहरीर पर पुलिस ने ग्राम प्रधान पार्वती देवी व प्रधान प्रतिनिधि राकेश चौहान समेत पांच के विरुद्ध गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया है।
खड्डा में सफाई कर्मी है मुख्य आरोपी सेमरहना गांव में रास्ते में ट्राली खड़ी करने को लेकर गुड्डू यादव के साथ विवाद करने का आरोपी ग्राम प्रधान का बेटा राकेश चौहान खड्डा (कुशीनगर) ब्लाक में सफाई कर्मचारी की नौकरी भी करता है। मृतक की पत्नी किरन ने तहरीर में आरोप लगाया है कि राकेश ने पीएम आवास के नाम पर उसके पति से कैश लिया था,जिसको लेकर भी आए दिन विवाद की नौबत आती थी। दो बच्चों के सिर से उठा पिता का साया मृतक गुड्डू यादव अपने दो अन्य भाइयों से अलग रहता था। दोनों भाई गांव में दूसरी तरफ मकान बनवाकर रहते हैं और इसका मकान अलग है। गुड्डू ईंट-भट्ठा पर मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण करता था। उसके परिवार में पत्नी किरन के अलावे दो बेटे बलेशर (12) व अंशू (08) हैं। उसकी मौत से परिवार के भरण पोषण पर सवाल खड़ा हो गया है वहीं दोनों बेटों के सिर से पिता का साया उठ गया है। सेमरहना गांव निवासी गुड्डू यादव की मौत के मामले में मृतक की पत्नी की तहरीर पर पांच लोगों के विरुद्ध केस दर्ज कर लिया गया है। शव को पोस्टमार्टम को भेज दिया गया है। पूरे मामले की जांच की जा रही है।निर्भय कुमार, एसओ निचलौल

Post A Comment:

0 comments: