जब देश की सरकार प्रदेश की सरकार जब बहुमत दलों के आसपास होती हैं तो सहमत तूती बोला करते हैं। यही हाल मध्यप्रदेश में रहा है कभी कमलनाथ सरकार इसी रास्ते से गुजरी है। यही हाल शिवराज सिंह चौहान का है। हम बात करेंगे मध्य प्रदेश के दमोह जिले की। जहां भारतीय जनता पार्टी के गद्दा पर बैठा करते थे उनकी तूती बोला जाती थी देवेंद्र चौरसिया आज वह अपनी कुर्सी से दूर है। दमोह जिले में राम भाई की तूती बोली जा रही है उन पर एक अपराध दर्ज हुआ है जिसमें चौरसिया परिवार का है बताया जा रहा है कि चौरसिया परिवार श्री देवेंद्र चौरसिया की हत्या का आरोप लगाया गया है राम बाई परिजन जेल में थे। हालांकि राम बाई ने अपने पति का नाम हटवा लिया है। ऐसा फैसला फेंका है कि चौरसिया परिवार के ऊपर 307 का मामला दर्ज करवाकर राजीनामा करवाना चाहती हैं। दमोह जिले के ताकतवर नेता जयंत मलैया के बेटे सिद्धार्थ माल्या ने हुंकार भरी है भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस जनता पार्टी सड़क पर निकल चुके हैं। इस झूठे मामले को रोकने की सिफारिश दी है साथ ही राम बाई ने जयंत मलैया को कहा है कि वह पंचनामा चुनाव नहीं जीत सकते और उन्हें मूर्ख भी बताया है। साथ में बाप बेटे को चुनौती भी दी है देखिए इस खास रिपोर्ट में राम बाई के इशारे पर कैसे दमोह जिला चल रहा है। खामोश है जिला कलेक्टर खामोश है एसडीओपी खामोश है पुलिस कप्तान देखिए आगे की रिपोर्ट। देश प्रदेश में जब सरकारें दलों से चलती है तो यही हाल इन दिनों मध्य प्रदेश के दमोह जिले में चल रहा है। श्री कमलनाथ सरकार को कभी बसपा विधायक के दलों के विरोध करती है कभी भारतीय जनता पार्टी के बड़े-बड़े नेताओं से राम बाई विरोध करती हैं। खबर हटा से जुड़ी है जहां पर देवेंद्र चौरसिया कांग्रेस नेता और सिद्धार्थ मलैया भारतीय जनता पार्टी के पूर्व नेता रामबाई सिंह का विरोध कर रहे हैं। सिद्धार्थ मलैया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की फिर उसके बाद वह सड़क पर निकल गए सिद्धार्थ माल्या ने कहा देवेंद्र चौरसिया को न्याय मिलेगा कांग्रेस नेता सच्चे और ईमानदार नेता माने जाते हैं उनके हत्याकांड में राम भाई का हाथ साफ साफ बताया जा रहा है कि राम भाई ने उनकी हत्या की है। सिद्धार्थ माल्या ने कहा राजनीति को व्यापार बना रहे हैं कभी कांग्रेस की नेतागिरी कभी भाजपा की नेतागिरी वह तो अपना व्यापार बचा रहे हैं अस्तित्व बचा रहे हैं अब रात को तो अपराध ही मिलना चाहिए वह जेल जरूर जाएंगे। बीती रात में बरी गांव में एक व्यक्ति पर फायरिंग हुई जिसमें वह घायल हो गया है। इसमें चार आरोपी है जिसमें से दो आरोपी मृतक के देवेंद्र चौरसिया के बनाए गए हैं। हटा में लगातार कई सैकड़ों की तादात में लोग विरोध पर निकल चुके हैं राम भाई के विरोध कर रहे हैं और पलटकर राम बाई ने भी जयंत मलैया और उसके बेटे सिद्धार्थ मलैया पर अपराधों की छड़ी लगा दी है। राम बाई साहब ने बताया है कि लोगों से देखा नहीं जा रहा है कि मैं विधायक हूं उन्हें लगता है कि इन्हें विधायक के पद से हटा दिया जाए इसलिए वह कांग्रेस के साथ और भाजपा के साथ मिलकर दोनों षड्यंत्र चल रहे हैं राम भाई ने बताया है कि जयंत मलैया 15 साल से मंत्री रहे हैं उन्होंने क्या किया है दमोह जिले के लिए क्या विकास हुआ है दमोह जिला का उनका कहना है कि जो उनका कॉलेज है वह ओजस्विनी कॉलेज उस कॉलेज में मनमानी की फीस ली जाती है और बच्चों का शोषण किया जाता है। उन्होंने बताया है कि मैं हमेशा सच्चाई और ईमानदारी के रास्ते पर चलती हूं हमेशा गरीबों और अमीरों के साथ रहती हूं अपराध के खिलाफ खड़ी रहती हूं जिसको जो करना है कर ले मैं विधायक पद से नहीं हटने वाली हूं वह तो लोगों की इच्छा से मैं विधायक बनाई गई हूं अगर मेरे लोग मुझे नहीं चाहते तो मैं विधायक क्यों बनती सब ईश्वर की कृपा है ईश्वर देख रहा है कौन क्या कर रहा है।
संवाददाता-बबलू बंसल हटा

Post A Comment:

0 comments: