रिपोर्टर ------    दीपक कुमार शर्मा        दिल्ली में मानसून की शुरुआती बारिशों ने ही दिल्ली प्रशासन और एमसीडी के दावों की पोल खोल कर रख दी है। दिल्ली के स्लम इलाकों के अलावा, दिल्ली के पॉश इलाकों में भी सड़कें पानी से लबालब डूब रही है। प्रवीन झा से हुई बातचीत में पता चला कि दिल्ली के हैदरपुर विधान सभा के गोविंदपुर मोहल्ला में देखा जा सकता है की सडकों की क्या दुर्दशा है। जहाँ से आप की विधायक श्रीमती वन्दना पिछ्ले कुछ सालों से लगातार जीत रही है, गोविन्दपुर मोहल्ला , जहाँ व्यापारियो के गोदाम है, और माल के लिये आने और जाने वाले वाहनों को बहुत ही मुश्किल का सामना करना पड़ता है।इस कारण गोविंदपुर एरिया के लोगों को आने-जाने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही आये दिन लोग दुर्घटना के शिकार भी हो रहे है। जिसकी सूद लेने वाला कोई भी नहीं है। सड़क रिकवर करने और जलभराव की समस्या को हल करने को लेकर प्रशासन द्वारा किसी प्रकार का कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है! इन दिनो बरसात का मौसम चल रहा है रोड पर कूड़ा कचरा पड़ा होने एवं बारिस होने से मिट्टी कीचड़ में तब्दील होती जा रही है। जिससे ऐसा प्रतीत होता है जैसे गोविंदपुर का ये एरिया नरक बन गया हो! बारिश बंद होने के बाद भी पूरे एरिया में कीचड़ फैलता जा रहा है। जिसके कारण गाडि़यों से आने-जाने वाले लोग आए दिन दुर्घटना के शिकार हो रहे है।स्थानीय क्षेत्र के लोगों को ये डर सताने लगा है कि कहीं हमेशा के लिए सड़क की यहीं हालत ना रह जायें।




Post A Comment:

0 comments: