रिपोर्ट आदेश भटनागर की धौलपुर, राजस्थान* 

धौलपुर में आज 16/8/2020 भाजयुमो ने मनाई पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई जी श्रद्धेय भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक सदस्य एवं तीन बार देश का नेतृत्व करने वाले स्वर्गीय श्री अटल बिहारी वाजपेई जी की की वाजपेई जी की द्वितीय पुण्यतिथि जिला अध्यक्ष अजय सिंह परमार (बोबी परमार) जी की अध्यक्षता में मनाई गई, धौलपुर में भारत के पूर्व प्रधानमंत्री एवं करोड़ों कार्यकर्ताओं के प्रेरणापुंज परम श्रद्धेय स्व. श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी की तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजली दी। 

अटल जी के आदर्श और व्यक्तित्व सदैव हमें प्रेरणा देते रहेंगे। आप अनंतकाल तक हर भारतीय के दिल में अटल रहेंगे। 

मुख्य अतिथि रहे, सत्येंद्र पाराशर जी ने बताया के 1994 में यूएन के एक अधिवेशन में पाकिस्तान ने कश्मीर पर भारत को घेर लिया था। उस दौरान प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव ने भारत का पक्ष रखने के लिए नेता प्रतिपक्ष अटल बिहारी वाजपेयी को भेजा था। वहां पर पाकिस्तान के नेता ने कहा कि कश्मीर के बगैर पाकिस्तान अधूरा है। तो जवाब में वाजपेयी ने कहा कि पाकिस्तान के बगैर हिंदुस्तान अधूरा है।

साथ ही उपस्थित रहे विशिष्ट अतिथि जिला परिषद सदस्य  बाचाराम बघेल जी ने बताया कि अटल बिहारी वाजपेयी जी सबको हंसाते हुए भाषण शुरू करते थे अटल बिहारी वाजपेयी जिस वक्त देश के प्रधानमंत्री बने थे, उस समय संसद में विश्वास मत के दौरान उन्होंने बहुत प्रभावी भाषण दिया था। उन्होंने सदन में भारतीय जनता पार्टी को व्यापक समर्थन हासिल नहीं होने के आरोपों को लेकर सवाल खड़े किए थे।

उन्होंने कहा था कि ये कोई आकस्मिक चमत्कार नहीं है कि हमें इतने वोट मिल गए हैं। ये हमारी 40 साल की मेहनत का नतीजा है। हम लोगों के बीच गए हैं और हमने मेहनत की है। हमारी 365 दिन चलने वाली पार्टी है, ये चुनाव में कोई कुकुरमुत्ते की तरह पैदा होने वाली पार्टी नहीं है। उन्होंने कहा था कि आज हमें सिर्फ इसलिए कटघरे में खड़ा कर दिया गया क्योंकि हम थोड़ी ज्यादा सीटें नहीं ला पाए।

 जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष व पार्षद विश्वजीत राणा उर्फ मोंटी जी ने बताया कि आज देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की दूसरी पुण्यतिथि है। साल 2018 में एक लंबी बीमारी से जूझने के बाद अटल जी ने दिल्ली के एम्स अस्पताल में अपनी आखिरी सांस ली थी। 93 वर्ष की उम्र में उनका निधन हुआ था।

 जिला महामंत्री रजत जनसंघी जी ने बताया कि अटल बिहारी वाजपेयी जी ने प्रधानमंत्री के रूप में तीन बार देश का नेतृत्व किया। इस दौरान उन्होंने अपने भाषणों से सबको हिलाकर रख दिया। वे पहली बार साल 1996 में 16 मई से 1 जून तक, 19 मार्च 1998 से 26 अप्रैल 1999 तक और फिर 13 अक्तूबर 1999 से 22 मई 2004 तक देश के प्रधानमंत्री रहे हैं। तथा परमाणु शक्ति परीक्षण जैसा असंभव एंव अविश्मरणीय कार्य किया |

अटल बिहारी वाजपेयी की दूसरी पुण्यतिथि पर  युवा मोर्चा पदाधिकारियों ने उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए उनके छाया चित्र पर माला वह फूल चढ़ाकर चढ़ाकर फूल चढ़ाकर श्रद्धा सुमन अर्पित किया !

इस अवसर पर जिला महामंत्री पुष्पेंद्र राजावत, जिला उपाध्यक्ष रूपेंद्र चाहर, जिला मंत्री गगन बघेल, धीरू परिहार, नगर अध्यक्ष राहुल तिवारी, शहर अध्यक्ष अनिल धारिया, आईटी संयोजक रूपेश बघेल, लल्लू राणा छावनी, राजू पथरोल, अशोक सिकरवार, ललित सोनी, करण गर्ग सहित कई भाजयुमो परिवार के सदस्य उपस्थित रहे!

Post A Comment:

0 comments: