गुरुवार 15 अक्टूबर 2020 

महराजगंज-सोनौली भारत नेपाल अंतरष्ट्रीय सीमा पर भारत सरकार एडीजी एलपीआई आदित्य मिश्रा और एस एस बी कमांडेंट मनोज कुमार सिंह ने किया दौरा उनके साथ एस एस बी कमाडेंट मनोज कुमार सिंह भी मौजूद रहे।

आप को बतादे की भारत नेपाल अंतरराष्ट्रीय सीमा पर व्यापार की शुविधा और सीमावर्ती बुनियादी ढांचे के निर्माण और भारत की भूमि सीमाओं पर यात्रा की सुगम उत्कृष्ट करने का उद्देश्य से भारत सरकार ने लैंड पोर्ट बनाने का निर्णय लिया है।

एडीजी लैंड पोर्ट्स अपॉरिटी ऑफ इंडिया आदित्य मिश्रा ने बताया कि सोनौली सीमा क्षेत्र में लगभग चार सौ करोड़ की लागत से एक उच्च स्तरीय लैंडपोर्ट बनाया जाएगा।उन्होंने बताया कि सोनौली सीमा क्षेत्र की बहुत अधिक आवश्यकता है।क्योंकि यहाँ अंतराष्ट्रीय व्यपारिक वाहनों और अंतरराष्ट्रीय पैसेंजर्स का तेजी से काफी आवागवन होता रहता है।एडीजी ने बताया कि लैंडपोर्ट में काफी उच्च स्तरीय सुविधएं मिलेगी जाम के झाम से निजात मिलेगी आवागमन सुदृढ़ हो जाएगा ट्रेड व इमाइग्रेशन की व्यवस्था हो गई। इंटरनेशनल बस टर्मिनल का निर्माण होगा इससे क्षेत्र का चौमुखी विकास होगा। 

किसानों को उनके जमीनों की मुवावजा देने के सवाल पर एडीजी ने बताया कि भूमि अधिग्रहण का कार्य तो सरकार का है।ओ जो भी मुवावजा निर्यारित करते हैं।उसका भुकतान लैंड पोर्ट्स अपॉरिटी ऑफ इंडिया यानी भारतीय भूमि पत्तन प्राधिकरण करेगी।


इस मौके पर एस एस बी कमाडेंट मनोज कुमार सिंह उपजिलाधिकारी प्रमोद कुमार तहसीलदार अशोक कुमार क्षेत्राधिकारी नौतनवां संजय सिंह चौहान क्षेत्राधिकारी फरेन्दा अशोक कुमार मिश्रा सहित शास्त्र सीमाबल के जवान और राजस्व  के अन्य कर्मचारी उपस्थित रहे।

Post A Comment:

0 comments: