Bureau Chief Suhel Ahmed Delhi 

 डॉक्टर हितेश गुप्ता कड़कड़डूमा के आईपी एक्सटेंशन डिस्पेंसरी में तैनात थे कोरोना काल में कोरोना के मरीजों की सेवा के दौरान वह भी इस बीमारी की चपेट में आ गए थे और  इलाज के दौरान 3 नवंबर 2020 को उनका निधन हो गया था


 दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने  कोरोना योद्धा डॉक्टर हितेश गुप्ता के परिवार से मुलाकात की और सरकार की तरफ से उन्हें 10000000 रुपए ( एक करोड़ )की राशि का चेक सौंपा डॉ गुप्ता की पत्नी सुरभि गुप्ता को सीएम साहब ने कहा कि उनके निधन होने का उन्हें बहुत दुख है और वह उनके परिवार के साथ हैं और सीएम अरविंद केजरीवाल ने उनकी पत्नी सुरभि गुप्ता को दिल्ली सरकार में नौकरी देने का वादा भी किया 



उसके बाद आईपी एक्सटेंशन में परिवार से मुलाकात के बाद सीएम केजरीवाल ने मीडिया से बात की उन्होंने बताया डॉक्टर हितेश गुप्ता दिल्ली सरकार में एक डॉक्टर के तौर पर काम कर रहे थे कोविड-19 कोरोना काल के वक्त मरीजों की सेवा कर रहे थे  कोरोना के मरीजों के लिए काम करते हुए उन्हें भी कोरोना  हो गया था और इलाज के दौरान अस्पताल में उनका निधन हो गया था डॉक्टर गुप्ता के निधन का हमें बहुत दुख है और अफसोस है वा उनके परिवार के प्रति सहानुभूति भी है जैसे कि आप सभी जानते हैं कि जिसे भी कोरोना होता हैं उन लोगों को हौसला और हौसला-अफजाई के लिए और उनकी मदद करने के लिए दिल्ली सरकार ने यह एक अनूठी योजना का ऐलान किया है।


 सीएम केजरीवाल ने बताया इस योजना के तहत अगर हमारे किसी भी कोरोना  योद्धा को काम करने के दौरान कोरोना  हो जाता है और उसकी वजह से वह शहीद हो जाता हैं तो सरकार उनके परिवार को 10000000/- रुपए  ( एक करोड़ ) की सहायता राशि देकर उनके परिवार की मदद करेगी।


 इस दौरान डॉक्टर हितेश गुप्ता की पत्नी सुरभि गुप्ता ने सीएम केजरीवाल का आभार जताया और उन्होंने कहा कि इस दुख की घड़ी में मुख्यमंत्री साहब ने हमारी हर स्तर पर मदद करी है और उन्होंने  आगे भी मदद करने का वादा किया है।


 डॉक्टर हितेश गुप्ता कड़कड़डूमा की आईपी एक्सटेंशन डिस्पेंसरी में तैनात थे कोरोना  मरीजों की सेवा के दौरान वह भी उसकी चपेट में आ गए थे और इलाज के दौरान डॉ गुप्ता का 3 नवंबर 2020 को निधन हो गया था उनके परिवार में उनकी पत्नी सुरभि गुप्ता वा एक छोटी बेटी 8 साल की और वृद्ध मां है।

Post A Comment:

0 comments: