रिपोर्टर ज्ञान्नेंद्र कुमार (देल्ही)

फरीदाबाद, 23 जनवरी। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि पिछले छह वर्षों में शहर में सभी क्षेत्रों में विकास कार्य करवाए गए हैं। इसके बावजूद स्वच्छता आज भी हमारे सामने प्रमुख समस्या है और हम सभी जनप्रतिनिधियों को मिलकर इस समस्या का समाधान करने का संकल्प लेना है। केंद्रीय राज्य मंत्री शनिवार को लघु सचिवालय के कॉन्फ्रेंस हॉल में विधायकों व नगर निगम पार्षदों के साथ शहर के विकास कार्यों को लेकर चर्चा कर रहे थे।

मीटिंग में संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि शहर में काफी सुधार हुआ है और काफी की आवश्यकता है। लोगों को सबसे पहले सीवरेजसफाई व स्वच्छ पेयजल जैसी मूलभूत सुविधाएं मिलें यही हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि नगर निगम इस कार्य को कर रहा है लेकिन हम सभी जनप्रतिनिधियों को भी अपने अधिकारों के साथ-साथ कर्तव्यों का पालन करना होगा। उन्होंने कहा कि नगर निगम अभी तक ग्रांट के सहारे टिका हुआ है। अब समय आ गया है जब निगम को अपने पैरों पर खड़ा करना होगा। उन्होंने कहा कि नगर निगम शहर की सरकार है और पार्षद चुने हुए प्रतिनिधि हैं। ऐसे में सभी पार्षद विकास कार्यों में सहयोग भी करें और लोगों की अपेक्षा भी पूरी करें। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी चुने हुए जनप्रतिनिधियों की सुनवाई भी हो और कार्य भी किए जाएं। उन्होंने कहा कि जिला में जितने भी चुने हुए पार्षद हैं उन सभी की प्राथमिकताएं पूछकर उनके वार्डों में एक-एक करोड़ रुपये के विकास कार्य भी करवाए जाएं। उन्होंने पार्षदों से भी कहा कि वह अपने कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर दें और रुके हुए विकास कार्यों की सूची भी दें। उन्होंने मीटिंग में पुन: शहर की सफाई व्यवस्था को मजबूत करने पर बल दिया और कहा कि जब तक सफाई नहीं होगी शहर नहीं सुधरेगा।

मीटिंग में नगर निगम कमिश्नर यशपाल ने कहा कि स्वच्छता अभियान में लोगों की भागीदारी होनी अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि सभी जनप्रतिनिधियों के सहयोग से शहर में विकास कार्यों को आगे बढ़ाने के लिए कार्य किया जाएगा। केंद्रीय राज्य मंत्री द्वारा सभी वार्डों के लिए एक-एक करोड़ रुपये के विकास कार्यों को लेकर उन्होंने कहा कि जितनी जल्द पार्षद अपने-अपने विकास कार्यों की सूची देंगे उनके कार्य उसी समय शुरू करवा दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि सीवरेजपेयजलपार्कस्वच्छता सहित अलग-अलग कार्यों के लिए नगर निगम के संयुक्त आयुक्त स्तर व अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। नगर निगम में आ रही अलग-अलग समस्याओं के लिए भी उन्होंने एक विशेष कार्ययोजना जल्द प्रस्तुत करने क बात मीटिंग में कही। उन्होंने मीटिंग में गुरुग्राम नगर निगम के कमिश्नर रहते तैयार की गई व लागू की गई कार्ययोजना भी प्रस्तुत की। उन्होंने कहा कि इसमें सालिड वेस्ट मैनेजमैंटपार्कों व हरित पट्टियों को संस्थाओं के सहयोग से विकसित करना व अन्य कार्य शामिल हैं। नगर निगम में जरूरी सामान को लेकर उन्होंने कहा कि किसी भी तरह के सामान की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने सभी पार्षदों से अपील करते हुए कहा कि वह लोगों को हाउस टैक्स जमा करवाने के लिए भी प्रेरित करें ताकि नगर निगम की आर्थिक हालत को भी बेहतर किया जा सके।

मीटिंग में तिगांव से विधायक राजेश नागरएनआईटी से विधायक नीरज शर्मानगर निगम की मेयर सुमन बालासीनियर डिप्टी मेयर देवेंद्र चौधरीडिप्टी मेयर मनमोहन गर्ग सहित सभी पार्षद व नगर निगम के अधिकारी मौजूद थे।

Post A Comment:

0 comments: