ब्यूरो चीफ सोहेल  अहमद दिल्ली


सदर बाजार थाना अध्यक्ष (SHO)  अशोक कुमार  ने कोई कानूनी कार्यवाही नही की और दोनो पक्षों को यह कह कर की आपस में समझौता कर लो और अब कोई वापस नही लड़ेगा  और दोनो पक्षों को वापस भेज दिया  जबकि पीड़ित तारिक कुरैशी ने सारी सीसीटीवी फुटेज और घटना का पूरा विवरण रात के ही वक्त एसएचओ अशोक कुमार को बता दिया था !

 यह घटना आधी रात 1:00 बजे 

7/03/2021 मकान न० 8180 मोहल्ला गली चिमनी मिल बाड़ा हिंदु राव दिल्ली 6 निवासी हाजी मोहम्मद तारिक कुरेशी उमर s/o स्व० मोहम्मद इदरीस की पत्नी सालिमह परवीन  ने अपने घर वालों को सोची समझी साजिश के मुताबिक बुला कर अपनी ससुराल में हमला करवा दिया  हमला करने वालों में उनकी पत्नी सालिमह परवीन के पिता इरशाद , चाचा रफी, असलम, नदीम, वसीम सभी पुत्र मोहम्मद हयात निवासी 8043 गली टायर वाली बाड़ा हिंदु राव दिल्ली 6 और इरशाद का साला हसीब व अन्य तकरीबन 50 से 60 लोग वारदात में शामिल थे   




आधी रात 1 बजे के वक्त  पीड़ित  तारिक  कुरैशी के ससुराल से 50  से 60 लोग  आकर घर के बाहर  का जाल तोड़ने व गाली गलौज करने लगे आवाज़े सुनकर कर  तारिक कुरेशी की माता जी ने दरवाज़ा खोला !

दरवाज़ा खुलते ही सभी ने गाली गलौज करते हुए माता जी के साथ मार पीटाई शुरू कर दी और अंदर घुस गए जिसे सुन कर बड़े भाई मोहम्मद उवैस  भी नीचे आ गए तो सभी हमलावर लोग उन पर टूट पड़े और अपनी जेबों से लोहे का पंच निकाल कर उंगलियों में पहन कर कमर व पीठ पर बहुत बुरी तरह से मारा जिससे उन्हें  बहुत अंदरूनी  चोटे आई  इसी बीच जब तारिक कुरेशी ने अपने भाई को बचाने की कोशिश की तो उनको भी यह सब लोग मारने लगे !  हमलावर ससुराल वालों ने एक जुट हो कर जान से मारने के इरादे से यह हमला किया था 



  तुरंत तारिक कुरैेशी ने 100 नम्बर पर फोन किया लेकिन पुलिस आई जरूर  पर  इन लोगों ने बाहर से ही पुलिस को वापस भेज दिया  और फिर मार पिटाई चालू कर दी घबराकर तारिक  ने पुलिस को दुबारा 100 नम्बर पर फोन  किया दूसरी बार पुलिस घर आई  और हाजी तारिक कुरैेशी को थाने ले गई और थोड़ी देर बाद उनके बड़े भाई मोहम्मद उवैस भी थाने आ गए 


मकान में कोई  आदमी ना होने पर  आरोपी लोगों ने मौका देख कर सभी किमती सामान,  गहने वा 16 लाख नकद व हाजी मोहम्मद तारिक कुरैेशी का सारा ज़ेवर व बड़े भाई मोहम्मद उवैस  का सारा ज़ेवर जो कि दोनो मंज़िलें पर अलग अलग रखा हुआ था जिसके बारे में हाजी मोहम्मद तारिक कुरैशी की पत्नी सालिमह परवीन को पता था ! जिसकी मदद से इसे लूट लिया गया   जो भी घटना घटित हुई है उस घटनाक्रम की विडियो रिकॉर्डिंग मौजूद है !

Post A Comment:

0 comments: