Reporter Manoj Kumar



 शनिवार, 10 अप्रैल 2021, दोपहर 12:24 बजे


महराजगंजः फरेंदा थाना क्षेत्र के उत्तरी बाईपास पर स्थित जीवनदायिनी हॉस्पिटल के डॉक्टरों और कर्मचारियों की लापरवाही से एक बच्चे की मौत हो गई है। 


बृजमनगंज थाना क्षेत्र के बांगला चौराहा निवासी जितेंद्र अपनी पत्नी शीला को फरेंदा प्रसव के लिए भर्ती कराया था। शुक्रवार सुबह 8:00 बजे उसने एक बच्चे को जन्म दिया। उसके बाद चिकित्सक बच्चे व्यवस्था की हालत गंभीर बताकर इलाज करते रहे। शुक्रवार की शाम जब चिकित्सकों ने परिजनों को बच्चे को नहीं दिखाया तो परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया।


हंगामा शुरू होते ही अस्पताल के लोगों ने परिजनों को बच्चे का शव सौंप दिया। बच्चे का शव जला हुआ था और उसके सिर और कान से खून निकल रहा था। जिसे देखये देखकर परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा शुरू कर दिया। 


सूचना पर मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष कुछ लोगों को अस्पताल से पूछताछ के लिए थाने लेकर गए। थानाध्यक्ष गिरजेश उपाध्याय ने कहा कि तहरीर मिली है। जांच पड़ताल की जा रही है।

Post A Comment:

0 comments: