यूपी। आजमगढ़ जिले में 44–28 वर्ष के लोगों को कोबिट के टीकाकरण का पिछला वर्ग की शुरुआत में कल्याण मंत्री अनिल राजभर ने सोमवार को सठियाव स्थित उचित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर फीता काटकर किया। इस दौरान उन्होंने लोगों से टीकाकरण के बाद भी सावधानी बरतने की अपील की है। वहीं ब्लैक पंकज से बचाव के लिए अधिकारियों को योजना तरीके से काम करने का निर्देश दिए। जिले में टीकाकरण के बाद बनाए गए सभी तेज केंद्र पर भारी भीड़ दिखी मौके पर पुलिस के साथ ही पीएससी के जवान भी तैनात करना पड़ा कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने कहा कि युवाओं में वैक्स नेशन की काफी उत्साह है। पूरे देश में यूपी का वैक्सीनेशन प्रथम स्थान पर है। मंडल के तीनों जिलों में जैसे आजमगढ़, मऊ और बलिया में युवाओं के लिए कोविड़ 19 वैक्सीनेशन के कार्यक्रम शुभारंम्भ भी किया गया। उन्होंने युवाओं में बड़ी संख्या में भाग लेकर टीकाकरण कराने का आग्रह भी किया। और बताएं कि पूरे देश में उत्तर प्रदेश को सभी कोविड-19 का टीकाकरण दी गई है। पहले से अपेक्षा वैक्सीन का नुकसान भी कम हो रहा है। प्रदेश सरकार के प्रयासों से मृत्यु दर और मरीजों की संख्या में भी लगातार कमी आ रही है।


कैबिनेट मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार अनिल राजभर ने यह बताया कि आज आजमगढ़ मंडल मुख्यालय पर 18–44 वर्ष की हमारी जो नौजवान साथी हैं उनको वैक्सीन देने का शुभारंभ हुआ है आज इसी कार्यक्रम में हम लोगों का यहां पर आना हुआ है आपसे पहले जो आप सभी जानते हैं कि जो हमारे नगर निगम है वहां पर और गौतम बुध नगर में सिर्फ 18 वर्ष से अधिक लोगों को वैक्सीनेट किया जा रहा है लेकिन मैं मुख्यमंत्री जी का स्वागत करता हूं और उनको बधाई भी देना चाहता हूं कि आज से जो हमारे बचे हुए मंडल से उनको भी इस कार्यक्रम में जोड़ा जा रहा है और यहां के नौजवानों को अब वैक्सीन मिलने का रास्ता भी साफ हो गया है और आज से उसकी शुरुआत हो गई है वैक्सीन के कार्य में हम पूरे देश के नंबर वन पर है और ज्यादा से ज्यादा वैक्सीन उपलब्ध कराने का कार्य भी हमारी सरकार ने उपलब्ध किए हैं और सबसे ज्यादा लोगों को भी वैक्सीन मिली है और इस पर भी इस प्रकार से कोई लापरवाही ना हो सके इसलिए हमने सारे विकल्प पर हमने कार्य किया है यहां तक कि हमने ग्लोबल टेंडर भी आमंत्रित किया है और दुनिया के कंपनियों को भी हमने आमंत्रित किया है और सरकार का पूरा प्रयास है कि हमारी पूरी टीम भी अच्छा काम किया है आज देखिए जहां वैक्सीन की बर्बादी होती थी। वही पहले की आंकड़े में और आज के मामले में काफी सुधार भी आई है। और मात्र 2% वैक्सीन का नुकसान हो रहा है बाकी वैक्सीन का सदुपयोग होते हुए देश और दुनिया का जो लक्ष्य है। हो जल्दी से जल्दी वैक्सीन लोगों को मिल जाए ताकि उस दिशा में हमारी सरकार रात दिन काम कर रही है और उसका परिणाम भी अच्छा से अच्छा ही आएगा।

Post A Comment:

0 comments: