श्री  यशपाल वीडियो कान्फेंस


संबाददाता कमलेश्वर चड्ढा फरीदाबाद, 15 मई। पुलिस आयुक्त ओपी सिंह ने कहा कि कोरोना काल का यह बुरा वक्त है और अगर हम लोग एहतियात बरतेंगे तो जल्द ही है वक्त निकल जाएगा। उन्होंने कहा कि आज हम उस दौर से गुजर रहे हैं जब हमें एक दूसरे से मिलकर कार्य करना है। पुलिस आयुक्त शनिवार को जिला के सभी सामाजिक-धार्मिक संगठनों व एनजीओ की वीडियो कांफ्रेंस में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों में जिला प्रशासन ने बहुत ही बेहतरीन व्यवस्था बनाई है। उन्होंने कहा कि सिलेंडरों को लेकर जो मारा-मारी थी वह पूरी तरह से खत्म है। अब लोगों को घर जाकर सिलेंडर मिल रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना का अब गांव की तरफ भी ज्यादा प्रसार हुआ है। ऐसे में ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को बहुत एहतियात बरतने की आवश्यकता है। मीटिंग में उन्होंने बताया कि पुलिस विभाग लगातार कोरोना महामारी में दिन-रात कार्य कर रहा है। उन्होंने बताया कि हम लोग सहयोग व समझ के साथ इस महामारी से निपटने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब तक फरीदाबाद पुलिस ने 325 मुकदमे दर्ज की है और 500 मीटिंग कर लोगों को कोरोना महामारी से बचाव के लिए नियमों का पालन करने का आवाहन किया गया है। उन्होंने कहा कि इस महामारी में 302 पुलिसकर्मी भी संक्रमित हुए हैं और हमारे एक पुलिसकर्मी की जान भी इसमें गई है। उन्होंने बेहतरीन कार्य के लिए स्वास्थ्य विभाग को बधाई देते हुए कहा कि यह विभाग इस बीमारी से निपटने के लिए ध्वजवाहक की भूमिका में है। उन्होंने कहा कि समाज के सभी सामाजिक संगठनों को मिलकर और अधिक लगन के साथ कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि इंसान ही इंसान के काम आता है और आज एक इंसान को दूसरे इंसान की आवश्यकता है। मीटिंग में संबोधित करते हुए उपायुक्त यशपाल ने कहा कि सभी सामाजिक व धार्मिक संगठनों के साथ-साथ एनजीओ के लोगों ने भी इस महामारी में जिला प्रशासन का साथ दिया है। उन्होंने कहा कि सभी संगठनों ने खुद का मनोबल बढ़ाया है और खुद को बचाया भी है। उन्होंने कहा कि पिछली बार जब दूसरे प्रदेशों में लोगों का पलायन शुरू हुआ तो भी सभी धार्मिक व सामाजिक संगठनों ने दिन-रात भोजन से लेकर अन्य सभी सेवाएं की। उन्होंने कहा कि आज कोरोना महामारी से निपटने के लिए खुद आगे आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि लोग अच्छी बिल्डिंगों को कोविड-19 केयर सेंटर में तब्दील कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इससे बिल्डिंगों में बेड तक ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए बड़ी तोड़फोड़ भी हो रही है लेकिन सभी लोगों का फिलहाल एक ही मकसद है की लोगों की जान कैसे बचाई जाए। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों में हमने व्यवस्था को बेहतर करने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि हमारा पॉजिटिविटी रेट आज 46% से 32% पर आ चुका है। ऑक्सीजन को लेकर कोई दिक्कत नहीं है। हमारे पास दवाएं पर्याप्त संख्या में है और टीकाकरण को लेकर भी हम बेहतर दिशा में कार्य कर रहे हैं। उन्होंने सभी सामाजिक व धार्मिक संगठनों से मिलकर कार्य करने का आवाहन किया और कहा कि आप सभी लोगों की बदौलत हम इस जंग को जरूर जीतेंगे। मीटिंग में सीएमओ रणदीप सिंह पुनिया ने कहा कि आज हम कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहे हैं। उन्होंने सभी लोगों से आवाहन किया कि वह अपने-अपने क्षेत्र में लोगों को मास्क का अवश्य लगाने का आवाहन करें। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद में 2011 की जनगणना के अनुसार 18 लाख की आबादी में से हम अब तक 7.30 लाख लोगों की कोरोना टेस्ट करवा चुके हैं। उन्होंने बताया कि 4.30 लाख लोगों का टीकाकरण कार्य पूरा किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि जिला में कोविड-19 टेस्टिंग को लेकर संख्या बढ़ाई गई है। उन्होंने बताया कि स्वयं सीएमओ कार्यालय को आरटीपीसीआर लैब के लिए दे दिया गया है और अगले दिन में हम वहां पर आईसीएमआर से अप्रूव्ड लैब स्थापित कर लेंगे। मीटिंग में ईसीआईसी मेडिकल कॉलेज के रजिस्ट्रार एके पांडेय ने बताया कि मेडिकल कॉलेज में फिलहाल डेडीकेटेड कोविड-19 केयर अस्पताल बनाया गया है। उन्होंने बताया कि यहां 510 बेड की सुविधा उपलब्ध है। इसके साथ ही 100 बेड का आईसीयू और एचडीयू भी यहां पर तैयार किया गया है। उन्होंने बताया कि जल्द ही यहां ऑक्सीजन बेड की संख्या 200 से 300 कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद ईसीआईसी मेडिकल कॉलेज में हम दिल्ली एनसीआर का सबसे बड़ा ऑक्सीजन प्लांट भी जल्द ही स्थापित करने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारे पास ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है और मरीजों को हम सबसे बेहतरीन सुविधाएं देने में कामयाब रहे हैं। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज द्वारा अब तक दो लाख फ्री ऑफ कॉस्ट आरटी-पीसीआर टेस्ट किए जा चुके है। उन्होंने कहा कि हम टेस्टिंग की क्षमता एक हजार प्रतिदिन से 12 सौ प्रतिदिन पर ले गए हैं और जल्द अगले सप्ताह तक इसे दो हजार प्रतिदिन पर लेकर जाएंगे। उन्होंने कहा कि हमारा रिकवरी रेट अच्छा है और हम बेहतर सुविधाएं देने के लिए भी कृत संकल्प है।

Post A Comment:

0 comments: