संबाददाता कमलेश्वर चड्ढा 
फरीदाबाद,16 जून। उपायुक्त यशपाल ने बताया कि हरियाणा सरकार द्वारा घोषित स्कूलों की ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद जिला में आज बुधवार से ऑनलाइन कक्षाएं शुरू हो गई हैं। गर्मियों की छुट्टियां 15 जून को खत्म हो गई थी। परन्तु सरकार द्वारा कोरोना वायरस के चलते विद्यार्थियों की स्कूलों में छुटि्टयों को आगामी 30 जून तक बढा दिया गया है।
 कोविड-19 वैश्विक महामारी के कोरोना वायरस की दूसरी लहर के चलते सरकार ने प्रदेश के सभी स्कूलों में 22 अप्रैल से 31 मई तक ग्रीष्मकालीन अवकाश घोषित की थी। इनको बाद में सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार शिक्षा विभाग द्वारा बढ़ाकर 15 जून तक कर दिया था। अब दोबारा छुटि्टयों को 30 जून तक बढा दिया गया है। जबकि विद्यार्थियों की पढाई आनलाईन शुरू कर दी गई है। अब स्कूलों में आज बुधवार सुबह साढ़े 9 बजे से कक्षा 1 से 12वीं तक के स्कूलों के विद्यार्थियों की ऑनलाइन पढ़ाई शुरू हो गई है।
 उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा जारी कोरोना वायरस की हिदायतो के अनुसार हालांकि कुछ सुधार जरूर है पर अभी भी हालात पूर्ण रूप नहीं सुधरे हैं। इसलिए स्कूलों को फिलहाल बंद 30 जून तक ही रखा जाएगा। स्कूल न खुलने के कारण विद्यार्थियों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। इस कारण पढाई आनलाइन शुरू की गई है।
उन्होंने बताया कि शिक्षक व विद्यार्थी दोनों तरफ से ऑनलाइन क्लासेज से पाठ्यक्रम को पूरा करने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन  कई जगह नेटवर्क कनेक्टिविटी नहीं है, तो कहीं बच्चों के पास एंड्रायड फोन भी नहीं है। ऐसे में बच्चों के लिए ऑनलाइन पढ़ाई को समझना मुश्किल हो रहा है।
 जिला शिक्षा अधिकारी ऋतु चौधरी ने बताया कि शिक्षा विभाग द्वारा अवसर एप व एजुसेट पर आज बुधवार को सुबह साढ़े 9 बजे से कक्षाएं लगाई गई। इसके अलावा, व्हाट्सऐप पर लिंक देकर जिलाभर के स्कूलों में ग्रीष्मकालीन छुट्टियों को तीसरी बार आगामी 30 जून तक बढ़ाया गया है।
 उन्होंने बताया कि पहली जून से ही स्कूलों में रोटेशन के अनुसार 50 फीसदी स्टाफ आ रहा है। स्कूलों में अवसर एप व एजुसेट पर सुबह साढ़े 9 बजे से ऑनलाइन कक्षाएं शुरू हो गई। इसमें पहली से आठवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को स्किल लर्निंग की प्रतियोगिताओं से भी जोड़ा जा रहा है, ताकि बच्चे मनोरंजन के साथ-साथ नए कौशल भी सीख सकें।
खण्ड शिक्षा अधिकारी बल्लभगढ़  बलबीर कौर ने बताया कि हिंदी-अंग्रेजी मीडियम की कक्षाएं अलग-अलग लगाई गई हैं।, उन्होंने बताया कि 1 हफ्ते के बाद शिक्षकों द्वारा फोन पर विद्यार्थियों की शिक्षा की कार्य प्रनाली का फीड बैक भी लेगें।ऑनलाइन पढ़ाई में हिंदी और इंग्लिश मीडियम के छात्रों को अलग-अलग माध्यम से पढ़ाया जा रहा है। दोनों मीडियम के विद्यार्थियों की अलग-अलग कक्षाएं लगती हैं। इंग्लिश मीडियम के लिए स्वयं प्रभा के 12 चैनल रखे गए हैं। इसकी खास बात यह कि शिक्षक हर सप्ताह एक बार फोन कर अभिभावकों से फीडबैक लेते हैं, कि बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई कितनी समझ आ रही है। ऑनलाइन कक्षा के लिए व्हाट्सऐप पर लिंक भेजा जाता है।  आज 16 जून से ग्रीष्मकालीन छुट्टियां समाप्त हो गई थी। परतुं कोविड-19 वैश्विक महामारी कोराना संक्रमण के बचाव के लिए सरकार द्वारा स्कूलों की छुटि्टयों को आगामी 30 जून तक बढाया गया है। विद्यार्थियों की पढाई बाधित ना हो इसके साथ आज बुधवार से ऑनलाइन कक्षाएं शुरू हो गई हैं। जल्द ही स्कूलों को खोलने को लेकर सरकार निर्देश आने का इंतजार है। एसओपी आते ही स्कूलों के साथ शेयर की जाएगी।

Post A Comment:

0 comments: