फरीदाबाद को सीधा केजीपी से जोड़ा जाएगा, 1600 करोड़ रुपए की धनराशि की मंजूरी:कृष्णपाल गुर्जर 




फरीदाबाद, 2 जुलाई।     REPORTER KAMLESHWAR CHADDHA

 भारत सरकार के केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि फरीदाबाद को सीधा केजीपी से जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि इसके लिए सरकार द्वारा लगभग 1600 करोड़ रुपए की धनराशि की मंजूरी भी प्रदान कर दी गई है। इस राशि में से 400 करोड रुपए की धनराशि केजीपी से फरीदाबाद शहर की सीधा कनेक्टिविटी के लिए और 12 सौ करोड़ रुपए की धनराशि से भूमि का अधिग्रहण किया जाएगा। केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने गत सायं स्थानीय सेक्टर 16 के सामुदायिक भवन में कोरोना काल में जो लोग अपनी जान गवा चुके हैं, उनकी स्मृति में पौधारोपण अभियान के शुभारंभ अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने नीम का पौधा रोपण कर कोरोना काल में जान गवाने लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित की। श्रद्धांजलि सभा में कोरोना काल में कोरोना के संक्रमण से काल का ग्रास बने लोगों की आत्मा की शांति के लिए 2 मिनट का मौन भी रखकर और उनकी आत्माओं की शांति के लिए भगवान से प्रार्थना कर श्रध्दाजलि दी तथा उनके परिजनों को भगवान इस दुख को करने की शक्ति प्रदान करें।
 केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने अपने सम्बोधन में कहा कि विश्व में भारत की छठे हिस्से की जनसंख्या है। कोविड-19 वैश्विक महामारी में के बचाव के लिए देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रदेश में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने वैज्ञानिकों और चिकित्सकों के सहयोग से कोरोना वायरस के बचाव के लिए विश्व में सबसे पहले वैक्सीनेशन तैयार करके एक मिसाल कायम की है। आज 5 लाख वैक्शीन प्रतिदिन तैयार किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मार्च 2020 में कोरोना का प्रकोप भारत में आया था और अब जुलाई 2021 हो गई है। पिछले लगभग सवा साल से देश के लोगों ने कोरोना वायरस का आपसी तालमेल बनाकर डटकर मुकाबला किया है। इसके बावजूद भी कोरोना के काल का ग्रास बने उन लोगों की सहयोग के लिए भी धार्मिक, सामाजिक संगठन आगे आकर उनके परिजनों को सांत्वना और अन्य सुविधाएं प्रदान कर रहे हैं। सरकार का भी प्रयास है कि जिन बच्चों के मां-बाप कोरोना वायरस के काल का ग्रास  में इस दुनियां से चले गए हैं उनकी परवरिश के लिए सरकार द्वारा बेहतर प्रयास किया जा रहा है।
 केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी कोरोना वायरस बहरूपिया है। यह पता नहीं किस रूप में आ जाता है। कोरोना वायरस के द्वितीय चरण में बहुत सारे लोगों ने अपनी जान गवाई है। उनके लिए मैं पुन: उनकी आत्मा शांति के लिए भगवान से प्रार्थना करता हूं और उनके परिजनों को इतना संयम व शक्ति प्रदान करें कि वह इस दुख की घड़ी को सहन करने में सक्षम हो। उन्होंने आम जन से अपील करते हुए कहा कि वे सरकार द्वारा जारी कोविड बचाव के लिए हिदायतो का पालन करें। वैक्शीनेशन अवश्य लगवाए। मूहँ पर मास्क लगाना, हाथों को सनेटाइज करना या बार बार साबुन से हाथधोना, 2 गज की सामाजिक दूरी बनाए रखने के नियमों की पालना स्वयं करें तथा अन्य लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करें।
  केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी की प्रथम व दूसरी लहर का लोगों ने डटकर मुकाबला किया है और तीसरी लहर के लिए सरकार कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए बेहतर कदम उठा रही है। इसके लिए देश में लगभग 1500 आक्सीजन प्लांट लगाए गए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस में ऑक्सीजन की सबसे बड़ी जरूरत होती है और हमें यह आक्सीजन पेड़ पौधों से मिलती है। इसलिए अधिक से अधिक पेड़ पौधे लगाकर पर्यावरण में ऑक्सीजन पैदा करने के लिए अपना योगदान दें। हर व्यक्ति अपने जन्मदिन या अन्य सामाजिक समारोह पर एक पौधे का रोपण अवश्य करें और उस पौधे का तीन वर्ष तक रख रखाव करें। ताकि आप भी पौधों के जरिए पर्यावरण में ऑक्सीजन देने में देने के भागीदार बन सकें।
  केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि विकास बोलता है। वर्ष 2014 से पहले का फरीदाबाद का विकास देखिए और 2021 के फरीदाबाद का विकास देखिए।  सड़कें, स्ट्रीट लाइटें, आरएमसी रोड, पेयजल सप्लाई, सीवरेज व्यवस्था, स्वास्थ्य शिक्षा, यूनिवर्सिटी स्कूल, कॉलेज सहित मूलभूत जरूरत के विकास करवाए जा रहे हैं। वह किसी से छुपा नहीं है।
  कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि 2024 में नया दिल्ली बड़ोदरा हाईवे कंप्लीट हो जाएगा। जिससे फरीदाबाद से सीधा मुंबई जाने के लिए मात्र 14 से 15 घंटे लगेंगे। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद को सीधा केजीपी से भी जोड़ा जाएगा। इसके लिए सरकार द्वारा सोलह सौ करोड़ रुपए की धनराशि का प्रावधान कर दिया गया है। इसमें 400 करोड़ रुपए की धनराशि से सड़क बनाई जाएगी और 12 सौ करोड़ रुपए की धनराशि से जमीन अधिग्रहण की जाएगी।
 केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि वाया छांयसा होते हुए केजीपी जाने में फरीदाबाद से उतना ही समय  लगता है जितना समय आगे छांयसा से मानेसर या कुंडली तक जाने के लिए लगता है। इसके मद्देनजर सरकार ने फरीदाबाद को सीधा केजीपी से  जोड़ने का निर्णय लिया है और उसके लिए बजट का प्रावधान कर दिया गया है।
  फरीदाबाद के विधायक नरेंद्र गुप्ता ने श्रद्धांजलि सभा व पौधारोपण अभियान के अवसर लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार की कथनी और करनी में कोई फर्क नहीं है। ऑक्सीजन हमारे जीवन की सबसे मूलभूत जरूरत है। इसलिए हमें पर्यावरण में अधिक से अधिक मात्रा में ऑक्सीजन बनाए रखने के लिए अधिक से अधिक पौधे लगाने चाहिए और उन पौधों का रखरखाव करना चाहिए। ताकि हम भी पर्यावरण में पौधों के माध्यम से ऑक्सीजन बनाए रखने के भागीदार बन सकें। यही कोरोना वायरस से ग्रस्त जो लोग जान गवा चुके उनके लिए सच्ची श्रद्धांजलि है।
 इस पौधारोपण अभियान में 2000 पौधे विभिन्न आरडब्लूए तथा अन्य संस्थाओं को बांटी गए। यह पौधे एस्कॉर्ट कंपनी से के वीरेंद्र सिंह ने बटवाए हैं। उनका भी आभार प्रकट कर धन्यवाद किया।
 इस पौधा रोपण अभियान में  10000 पौधे लगाए जाएंगे। इनमें नीम, अमरूद, आम, शहतूत, पीपल, अशोका सहित छायादार व फलदार वृक्ष शामिल है।
 इस अवसर पर आरडब्ल्यूए के प्रधान बलवान शर्मा, हुड्डा के प्रधान राजेश ठाकुर, पार्षद छत्रपाल एडवोकेट, विनोद एडवोकेट विकास चौधरी, धर्मेश यादव, नीरज निगरानी, रमेश, सुखबीर मदेरणा, अजय सैनी, पवन, वीरेंद्र प्रताप, पार्षद विनोद भाटी, डॉ सुरेंद्र दलाल, पंकज रामपाल, सचिन शर्मा, अजय जैन, एल पी सिंह, राजेश ठाकुर उर्फ लड्डू, सोम मल्होत्रा, प्रवेश मेहता सहित कई गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। फोटो *कैप्शन-
  - केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए।
 -केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर व विधायक नरेंद्र गुप्ता कोरोना वायरस से जान गवा चुके लोगों को 2 मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि देते हुए।
 

Post A Comment:

0 comments: