तेज खबरेंप्रशासनराष्ट्रीयसाहित्यहरियाणा

निष्पक्ष व पारदर्शी तरीके से  एचसीएस परीक्षा संचालन के लिए की रिहर्सल – एसडीएम त्रिलोक चंद ने दिए टिप्स – 24 को करवाएगी जाएगी नकल रहित परीक्षा – फरीदाबाद में 99 परीक्षा केंद्रों पर 27,552 परीक्षार्थी देंगे एचसीएस परीक्षा

REPORTER K K CHADDHA

फरीदाबाद,20 जुलाई। डीसी जितेन्द्र यादव के दिशा-निर्देश पर  आज बुधवार को सेक्टर-12 के कन्वेंशन हाल में जिला में एचपीएससी द्वारा ली जाने वाली एचसीएस एग्जीक्यूटिव व अलाइड सर्विसेज की परीक्षा 24 जुलाई को निष्पक्ष व पारदर्शिता के साथ सफल संचालन  करवाने के लिए परीक्षा केंद्रों पर लगे ड्यूटी मजिस्ट्रेट, ट्रांजिट आफिसर व अन्य अधिकारियों को टिप्स दिए गए। जिला प्रशासन की ओर से परीक्षा के आयोजन को लेकर पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित किए जा रहे हैं। ताकि हरियाणा लोक सेवा आयोग/ एचपीएससी द्वारा 24 जुलाई को ली जाने वाले हरियाणा सिविल सर्विस एचसीएस प्रारंभिक व एलाइड परीक्षा के मद्देनजर संबंधित अधिकारी पूरी तरह सजग एवं सतर्क रहेंगे। तभी परीक्षा को निष्पक्ष तरीके से पूर्ण पारदर्शिता एवं शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराया जा सकेगा।

एसडीएम बल्लबगढ़ त्रिलोक चंद ने रिहर्सल में अधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि अधिकारी आपस में तालमेल करके एचसीएस परीक्षाओं को निष्पक्ष, पारदर्शी एवं शांतिपूर्वक ढंग से संपन्न करवाने में पूरी सजगता से ड्यूटी दें। उन्होंने कहा कि सरकार और हरियाणा लोक सेवा आयोग का सहयोग के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। जिला फरीदाबाद में एचसीएच परीक्षा संचालन के लिए  प्रशासन सजग एवं सतर्क है। उन्होंने  कहा कि जिला में दो सत्रों में होने वाली एचसीएस परीक्षा के लिए 99 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं, जिन पर 27552 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। परीक्षा दो सत्रों में आयोजित की जाएगी। प्रात: कालीन सत्र में परीक्षा प्रात: 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक तथा सायं कालीन सत्र में दोपहर बाद 3:00 बजे से सायं 5:00 बजे तक आयोजित की जाएगी। उन्होंने बताया कि हरियाणा लोक सेवा आयोग/एचपीएससी परीक्षा की तैयारियों को लेकर प्रशासन ने पूरी सजगता एवं सतर्कता के साथ  परीक्षाओं को पारदर्शी एवं शांतिपूर्ण ढंग से कराने के लिए सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। जिला में एचसीएस की प्रारंभिक परीक्षाएं पूर्ण पारदर्शिता एवं शांतिपूर्ण तरीके से करवाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि संबंधित अधिकारी व कर्मचारी परीक्षा के सफल आयोजन के लिए गंभीरता से अपना दायित्व निभाए। किसी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती जाए। कहा कि 24 जुलाई  रविवार को आयोजित हरियाणा लोक सेवा आयोग द्वारा परीक्षाओं के लिए किसी भी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं होगी। परीक्षाओं में कोताही बरतने वाले लोगों के खिलाफ तुरंत कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। परीक्षा केंद्रों में केवल ड्यूटी देने वाले अधिकारी अन्दर जा सकते हैं। इस संबंध में ड्यूटी मजिस्ट्रेट, ट्रांसिट अफसर और निरीक्षण अधिकारियों को परीक्षाओं के आयोजन संबंधी सभी प्रबंधो के लिए सभी अधिकारी अपने कार्य दायित्व से जुड़े दायित्वों के बारे में सरकार की हिदायतों के अनुसार पूरी तरह जानकारी हासिल कर लें। उन्होंने सभी अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि वे भी अपने दायित्व बारे जानकारी हासिल कर व व्यवस्थित रूप से परीक्षाओं की योजना बनाकर उसके सही क्रियान्वयन करने बारे निर्देश दिए। उन्होंने ट्रांजिट आफिसर को सेंसिटिव मटेरियल लाने व ले जाने की यूपीएससी हिदायतो की पूर्ण जानकारी लेने को भी कहा।

परीक्षाओं से संबंधित अधिकारियों से अपने वाहन चालक को निर्देश देने बारे कहा कि वे अपने वाहन चालकों को निर्देश दें कि उनके वाहन पूरी तरह वर्किंग कंडीशन में हो ताकि किसी प्रकार की परेशानी का सामना ना करना पड़े। उन्होंने कहा कि वाहन चालक पुलिस विभाग द्वारा निर्धारित रूट पर ही गाड़ी चलाएं। उन्होंने ट्रांजिट ऑफिसर को सेंसिटिव मटेरियल लाने व ले जाने के लिए जिला खजाना कार्यालय फरीदाबाद में पहुंचने तथा अपने साथ विभाग के एक कर्मचारी की मदद के साथ अपने दायित्व को पूरा करने बारे भी आवश्यक दिशा- निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि हरियाणा लोक सेवा आयोग/एचपीएससी द्वारा जारी हिदायतों की पालना करना सभी अधिकारियों का नैतिक दायित्व है, और इस संबंध में किसी प्रकार की कोई कोताही ना बरतें क्योंकि ऐसा करने वाले व दोषी पाए जाने वाला व्यक्ति इसके लिए खुद जिम्मेवार होगा। सरकार द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार उसके खिलाफ तुरंत कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। परीक्षा केंद्र पर मूलभूत सुविधाएं, बिजली, पंखे, जैमर, पेयजल, शौचालय और साफ सफाई सहित अन्य उचित व्यवस्था के प्रबंध बारे भी अधिकारी ध्यान रखें और सुरक्षा के दृष्टिगत ऐसी कोई भी परीक्षा सहयोगी सामग्री जो आपत्तिजनक है। उसको केंद्र में अंदर जाने ना दें। परीक्षा शुरू होने से एक घंटा पहले परीक्षा केंद्र का गेट खुलवाएं और दस मिनट पहले परीक्षा केंद्र का गेट बंद कर दिया जाए। जिसके बाद किसी भी विद्यार्थी को अंदर जाने की अनुमति नहीं होगी। एचपीएससी द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार परीक्षार्थी अपना ई-एडमिट कार्ड की वेरिफिकेशन के लिए पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, पहचान पत्र, आधार कार्ड, पैन कार्ड या भारत सरकार द्वारा मान्य कोई भी दस्तावेज जिस पर उनकी फोटो हो साथ ला सकते है। यदि स्कूलों के अन्दर वाल पेंटिंग या ब्लैक बार्ड आदि पर ऐसी सामग्री लिखी गई या पेंटिंग की गई है तो उस पर कागज चस्पा करना सुनिश्चित करें।जिला फरीदाबाद में एचपीएससी की हिदायतों के अनुसार परीक्षा की गारिमा, पवित्रता तथा कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए परीक्षा केंद्र पर मजिस्ट्रेट और ट्रासिट ऑफिसर और लोकल इसंपैक्टिग आफिसर नियुक्त किए गए हैं। ड्यूटी  मैजिस्ट्रेट परीक्षा केंद्रों का परीक्षा के दौरान निरीक्षण करेंगे। जबकि ट्रांजिट आफिसर परीक्षा के दौरान संबंधित परीक्षा केंद्र में सेंसिटिव मटेरियल को जिला खजाना अधिकारी से परीक्षा केंद्रों तक पहुंचाएंगे तथा परीक्षा समाप्ति के उपरांत जिला खजाना कार्यालय, फरीदाबाद में संबंधित नोडल अधिकारी को पहुंचाएंगे।रिहर्सल में एसडीएम परमजीत चहल,  एसडीएम बड़खल पंकज सेतिया,  सीटीएम नसीब कुमार, तहसीलदार नेहा सारण सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close